असम की इस एक्ट्रेस ने राजपूतों को लेकर दिया ये बयान, जानकर रह जाएंगे हैरान

Daily news network Posted: 2017-12-04 11:35:27 IST Updated: 2017-12-04 12:17:24 IST
असम की इस एक्ट्रेस ने राजपूतों को लेकर दिया ये बयान, जानकर रह जाएंगे हैरान
  • पद्मावती मूवी को लेकर पूरे देशभर में बवाल मचा हुआ है ऐसे में इस कॉन्ट्रोवर्सी के बीच इस जानी मानी एक्ट्रेस ने राजपूतों को लेकर ऐसा बयान दिया, जिसको जानकर आप भी चौंक जाएंगे।

पद्मावती मूवी को लेकर पूरे देशभर में बवाल मचा हुआ है ऐसे में इस कॉन्ट्रोवर्सी के बीच इस जानी मानी एक्ट्रेस ने राजपूतों को लेकर ऐसा बयान दिया, जिसको जानकर आप भी चौंक जाएंगे।


जी हां मिस टीन नार्थ ईस्ट रह चुकी जानी मानी एक्ट्रेस और सोशल वर्कर महिका शर्मा ने पद्मावती कंट्रोवर्सी पर अपना पक्ष रखा है. महिका ने इस पुरे मुद्दे पर संजय लीला भंसाली का सपोर्ट करती है उन्होंने कहा कि रानी पद्मावती पर बनी यह फिल्म बेहतरीन है ये ना सिर्फ आज के जेनरेशन को एजुकेट करेगी बल्कि उन्हें महिलाओं की खूबसूरती और डिग्निटी का सम्मान करना भी सिखाएगी। 




राजपूत करणी सेना द्वारा किये जा रहे इस फील, के विरोध पर अपनी राय रखते हुए महिका ने कहा कि किसी भी संगठन या कम्युनिटी को अफवाहों में नहीं बहना चाहिए बल्कि अफवाहों और रियलिटी में फर्क करने कि समझ रखनी चाहिए इस मुद्दे पर महिका आगे कहती है कि "इस फ़िल्म में अलाउद्दीन और पद्मिनी के बीच कुछ प्रेम दृश्यों की अफवाहें थीं, जिसके चलते राजपूत करनी सेना ने कई विरोध प्रदर्शन किए, करणी सेना के सदस्यों ने भंसाली को विकृत इतिहास का आरोप लगाया।


प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने भंसाली पर हमला किया, स्टाफ और फिल्म सेट को भी नुकसान पहुंचाया। मुझे लगता है कि इस अफवाह को बनाने वाले को फांसी की जानी चाहिए। और इस संगठन और समुदाय को बड़ा होना चाहिए और वास्तविकता और अफवाहों के बीच के अंतर को सीखना चाहिए।




महिका ने आगे कहा कि उन्हें यकीन नहीं होता कि राजपूत कम्युनिटी जो कि बहुत ही हिम्मतवाले और सेंसिबल माने जाते हैं वह इस तरह कि अफवाहों को सीरियसली क्यों ले रहे हैं, उन्हें समझाना चाहिए कि रानी पद्मावती ना सिर्फ उनके समुदाय का गुरुर हैं बल्कि पुरे भारतवर्ष का गुरुर हैं ऐसे में कोई भी भारतीय उनके व्यक्तित्व और सम्मान का मजाक बनता हुआ नहीं देख पायेगा, इसलिए राजपूत करणी सेना को फिल्म का विरोध नहीं करते हुए कम से कम सरकार के फैसले पर विश्वास करना चाहिए और उसका सम्मान भी करना चाहिए।