ऐसा क्या हुआ कि प्रियंका चोपड़ा को फेसबुक पर मांगनी पड़ी माफी, जानें पूरा मामला

Daily news network Posted: 2017-09-15 17:04:28 IST Updated: 2017-09-15 17:04:28 IST
ऐसा क्या हुआ कि प्रियंका चोपड़ा को फेसबुक पर मांगनी पड़ी माफी, जानें पूरा मामला
  • प्रियंका ने फेसबुक पर सफाई दी है और सिक्किम सरकार और वहां के लोगों से माफी भी मांगी है।

मुंबई।

बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा के सिक्किम को लेकर दिए बयान पर बवाल हो गया था। प्रियंका ने फेसबुक पर सफाई दी है और सिक्किम सरकार और वहां के लोगों से माफी भी मांगी है।


प्रियंका ने लिखा, मैं दुखी हूं कि टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में हालिया इंटरव्यू के दौरान मैंने जो कमेंट किया था उससे इतना कष्ट हुआ जबकि  कभी बिल्कुल ऐसा इरादा नहीं था। मेरे कहने का यह मतलब कभी नहीं था कि सिक्किम में उग्रवाद है। मेरा बयान उस फिल्म के संदर्भ में था जो उन लोगों से डील करती है जो संघर्ष से पीडि़त होने के बाद शरण मांगते हैं। सिक्किम शांतिप्रिय लोगों के साथ शांतिपूर्ण और हरा भरा राज्य है।


मुझे पता है कि मेरे बयान से सिक्किम के लोगों की भावनाओं और गर्व को आघात पहुंचा और इसके लिए मैं दिल से माफी मांगती हूं। मैं हमेशा एक ऐसे इंसान के रूप में गर्वान्वित रही हूं जिसे दुनिया के बारे में पता है लेकिन इस बात मेरे कुछ बयान गलत थे जबकि मुझे कुछ तथ्यों के बारे में बेहतर जानकारी होनी चाहिए थी। मैंने जो कहा उसकी पूरी जिम्मेदारी लेती हूं। मुझे अब समझ में आया कि हमारी फिल्म सिक्किम में बनी पहली फिल्म नहीं थी लेकिन हमारा मकसद हमेशा स्थानीय प्रतिभा,दोनों एक्टर्स और टेक्निशियंस को दमकने के लिए वैश्विक मंच प्रदान करना है। मेरी टीम और मेरा सिक्किम में लोकल कास्ट एंड क्रू के साथ काम करना शानदार अनुभव रहा और सिक्किम सरकार की ओर किए गए सपोर्ट के लिए शुक्रगुजार हैं।


मुझे दिए गए बयानों के इंपेक्ट के बारे में पता है और उम्मीद करती हूं कि सिक्किम के लोग और सरकार मुझे माफ कर देंगे। इससे पहले सिक्किम से सांसद प्रेम दास राय ने कहा कि प्रियंका चोपड़ा का बयान गलती थी और इस मसले को सनसनीखेज बनाने की कोई जरूरत नहीं है। टोरंटो फिल्म फेस्टिवल में हिस्सा लेने गई प्रियंका चोपड़ा ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि सिक्किम उग्रवाद से पीडि़त राज्य है। राय ने कहा उन्हें माफ कर देना चाहिए। उन्होंने अपने तथ्यों को सही नहीं किया।


सिक्किम पिछले तीन दशकों से उग्रवाद मुक्त राज्य है लेकिन उन्हें इसके बारे में पता नहीं है। उन्होंने अपने बयान को लेकर खेद प्रकट किया है। वह अपने में स्टार है लेकिन सिक्किम भी खुद में स्टार है। हमें इस मसले को सनसनीखेज बनाने की बजाय इसे यहीं दफन कर देना चाहिए। राय के मुताबिक प्रियंका चोपड़ा ने जो कहा वह गलती है और मैनलैंड इंडिया में सिक्किम का ऐसा जनरल परसेप्शन नहीं है। वह विदेशों के दौरे करती है शायद इसी कारण उन्हें उतनी जानकारी नहीं है कि भारत में क्या हो रहा है। हमें राई का पहाड़ नहीं बनाना चाहिए। हां उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारतीय राज्य के बारे में तथ्यात्मक रूप से गलत बयान दिया लेकिन हर कोई गलती करता है। टोरंटो फिल्म फेस्टिवल में  प्रियंका की मूवी पाहुना को दिखाया गया।


फिल्म की खूब तारीफ हुई। 7 सितंबर को प्रियंका ने ईटी कनाडा को एक इंटरव्यू दिया। इसमें प्रियंका ने बताया कि उनकी फिल्म उस क्षेत्र (सिक्किम)की पहली फिल्म है।  प्रियंका ने कहा, यह सिक्किम की फिल्म है। सिक्किम पूर्वोत्तर भारत का छोटा सा राज्य है, जिसकी कोई फिल्म इंडस्ट्री नहीं है और न ही किसी ने वहां से फिल्में बनाई है और यह उस क्षेत्र से आई पहली फिल्म है, क्योंकि वह उग्रवाद से प्रभावित है और वहां चिंताजनक स्थितियां हैं। प्रियंका के इंटरव्यू का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था।


इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने प्रियंका की जबरदस्त खिंचाई की। कुछ ने तो उन्हें मूर्ख तक करार दिया। हालांकि प्रियंका चोपड़ा ने अपने बयान को लेकर सिक्किम सरकार से लिखित में माफी मांग ली है। उनकी मां मधु चोपड़ा ने भी सिक्किम के पर्यटन मंत्री उगेन ग्यात्सो से फोन पर बात की और उन्होंने बयान को लेकर माफी मांगी।