अपोलो हॉस्पिटल्स और आरएमएस रिग्रो के बीच हुआ समझौता

Daily news network Posted: 2017-07-17 12:59:56 IST Updated: 2017-07-17 12:59:56 IST
अपोलो हॉस्पिटल्स और आरएमएस रिग्रो के बीच हुआ समझौता

गुवाहाटी।

देश में जोड़ों और हड्डी से संबंधित रोगों के अत्याधुनिक उपचार के लिए अपोलो हॉस्पिटल्स और आरएमएस रिग्रो के बीच एक समझौता हुआ है। इन दोनों के पार्टनरशिप में हड्डी तथा कार्टिलेज संबंधी रोग से पीडि़त मरीजों के लिए दो नए रीजेनरेटिव मेडिसीन सेल थेरेपी प्रोडक्ट, जिनका नाम ओसराम टीएम तथा चोंड्रान (आर) है, को पेश किया गया है।



ये दोनों ऐसे प्रोजेक्ट हैं, जो वैसे तो जोड़ों के दर्द से पीडि़त किसी भी मरीज के लिए लाभदायक है, लेकिन प्रतिस्पर्धा के दौरान खिलाडिय़ों के दुर्घटनावश हड्डियों के टूटने या किसी दुर्घटना के दौरान किसी व्यक्ति के हड्डी के गंभीर रूप से टूटे जाने के बाद वहां प्रत्यारोपण के लिए इस पद्धति के सहारे इसका उपयोग कर मरीजों को स्वस्थ बनाया जा सकता है। 



उल्लेखनीय है कि अपोलो हॉस्पिटल्स ने लाइव सर्जिकल वर्कशाप को संचालित कर अर्थोपेडिक चिकित्सकों के लिए रीजेनरेटिव मेडिसीन प्रैक्टिस को और कारगार बना दिया है। इतना ही नहीं चिकित्सकों के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कांफ्रेस आदि भी आयोजित किए जा रहे हैं। अपोलो हॉस्पिटल्स के संस्थापक चेयरमैन डॉ. प्रताप सी रेड्डी ने कहा कि हमारे इस अस्पताल की स्थापना ही देश में मरीजों को बेहतर से बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से किया गया है।