चलिए असम के रहस्यमयी गांव में, जहां रहते हैं सिर्फ बौने

Daily news network Posted: 2018-01-14 16:00:36 IST Updated: 2018-01-14 16:00:36 IST

असम में बौने लोगों का अनोखा गांव बसा है। बौनों के गांव को आमार गांव यानी हमारा गांव कहा जाता है। भारत-भूटान सीमा से कोई तीन-चार किलोमीटर पहले आमार नाम के इस गांव में 70 लोग रहते हैं। दूसरे गांवों के लोग इसे बौनों का गांव कहते हैं और गांव को बसाने वाले पवित्र राबा को बौनों का सरदार। आमार में किसी भी शख्स की ऊंचाई साढ़े तीन फीट से ज्यादा नहीं है।


यहां कोई अपनी इच्छा से रहने आया है तो किसी को उसी के परिवार वाले यहां छोड़कर गए हैं। असम के अलग-अलग कोनों से आए छोटे कद के ये लोग अब एक परिवार की तरह यहां रह रहे हैं। पवित्र बताते हैं कि जब भी मैं ऐसे लोगों को मजाक बनते देखता था, बैचेन हो जाता था। आखिर ऐसे ही एक दिन विचार आया कि अगर ये सभी लोग एक जगह रहेंगे तो कोई इनका मजाक नहीं उड़ा सकेगा। यही सोचकर मैंने इस गांव को बसाने की सोची। पवित्र ने असम के अलग-अलग हिस्सों से छोटे कद के इन लोगों को यहां इकट्ठा किया है।