युवा सरकारी नौकरी खोजने की जगह स्वावलंबी बनें: लिंग्दोह

Daily news network Posted: 2017-07-14 11:54:30 IST Updated: 2017-07-14 11:54:30 IST
युवा सरकारी नौकरी खोजने की जगह स्वावलंबी बनें: लिंग्दोह

शिलोंग।

प्रदेश की सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अम्परीन लिंग्दोह ने कहा कि युवाओं को सरकारी नौकरियों के लिए हाथ पांव मारने के बजाय अपने को स्वावलंबन बनाने की दिशा में आगे बढऩा चाहिए। कौशल क्षेत्र में रास्ते तलाशने चाहिए। स्थानीय एक कॉलेज में रसायन विज्ञान के विकास पर आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरी पाने के लिए निर्भर नहीं रहना चाहिए। सरकारी नौकरी नहीं मिलेगी तो मर जाएंगे, यह सोच गलत है। आज तकनीक इतनी आगे बढ़ चुकी है कि युवा अपने हुनर के बल पर आत्म निर्भर हो सकते हैं। 



उन्होंने कहा कि बहुत युवा राज्य से बाहर नहीं जाना चाहते हैं, यह एक बड़ी समस्या है। वहीं रसाय विज्ञान के विकास में बच्चे क्या योगदान कर सकते हैं और कहां तक खुद को ले जा सकते हैं। इसकी परख करने की जरूरत है। राज्य की पूर्व शिक्षा मंत्री रही अम्परीन ने अफसोस जताया कि दशकों से चली आ रही शिक्षा व्यवस्था से रोजगार सृजन नहीं होंगे।



 उन्होंने शिक्षा व्यवस्था में परिवर्तन की आवश्यकता पर जोर दिया। शैक्षणिक संस्थानों को इसमें बड़ी भूमिका अदा करनी है। उन्होंने शिक्षकों ने कहा कि उन्हें युवाओं को नवीनता की भावना और प्रतिस्पद्धा बाजार में बने रहने के लिए शिक्षित कर प्रोत्साहित करना चाहिए।