कांग्रेस का आरोप, अरुणाचल की भाजपा सरकार ने किया 10 हजार करोड़ का गबन

Daily news network Posted: 2017-09-15 15:26:19 IST Updated: 2017-09-15 15:26:19 IST
कांग्रेस का आरोप, अरुणाचल की भाजपा सरकार ने किया 10 हजार करोड़ का गबन

ईटानगर।

अरुणाचल प्रदेश में विपक्षी कांग्रेस ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। अरुणाचल प्रदेश पीसीसी चीफ तकाम संजॉय ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर 10 हजार करोड़ रुपए के गबन का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने घोटाले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है।


तकाम संजॉय ने कहा, पेमा खांडू के नेतृत्व वाली सरकार ने 2016-17 के दौरान रिवाज्ड एस्टीमेट(आरई), स्पेशल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड(एसआईडीएफ) व 2017-18 वित्तीय वर्ष में कम्पोजिट स्कीम्स के जरिए 10 हजार करोड़ की राशि का गबन किया। चीफ सेक्रेटरी शकुंतला डोले गामलिन की ओर से हाल ही में फाइनेंस कमिश्नर आशीष कुंद्रा को लिखे ऑफिशियल पत्र का हवाला देते हुए संजॉय ने सरकार पर मिश्रित स्वीकृति के बहाने सरकारी फंड के गबन की आपराधिक साजिश रची।


गामलिन के पत्र की कॉपी मीडिया को भी उपलब्ध कराई गई। संजॉय ने कहा, पूर्वोक्त ऑफिस मेमोरेंडम्स चैक्स एंड बैलेंसेज की डॉक्ट्रिेन का उल्लंघन है। साथ ही यह फाइनेंशियल प्रोपराइटी के सिद्धांतों और वित्तीय विवेक के बेसिक नियमों के विरुद्ध प्रभावी है। अत: यह जरूरी है कि वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान जो प्रक्रिया अपनाई गई उसकी नोट में उठाए गए मसले को एड्रेस करने के विचार के साथ तुरंत समीक्षा की जाए। अरुणाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा, विभागों की कम्पोजिट सेंक्शन योजनाओं के तहत डीपीआर की कोई विशेष डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट नहीं है लेकिन एक फाइल में कई योजनाओं को मंजूरी दे दी गई।


संजॉय ने पूछा कि इस तरह की स्थिति में कोई कैसे योजनाओं की संवीक्षा करेगा और व्यय की स्वीकृति देने के लिए कौन उपयुक्त प्राधिकारी है? अरुणाचल प्रदेश के पीसीसी चीफ ने कहा, उपमुख्यमंत्री चोवना मेन,जो वित्त मंत्री भी हैं, ने सभी कम्पोजिट योजनाओं को मंजूरी दी थी। प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और राज्यपाल से गबन के मामले की जांच सीबीआई से कराने का अनुरोध करते हुए संजॉय ने कहा कि मुख्यमंत्री पेमा खांडू को नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना चाहिए।