कांग्रेस ने मोदी सरकार के ऊपर लगाया ऐसा गंभीर आरोप, जानिए क्या

Daily news network Posted: 2017-10-13 14:16:33 IST Updated: 2017-10-13 14:47:00 IST
कांग्रेस ने मोदी सरकार के ऊपर लगाया ऐसा गंभीर आरोप, जानिए क्या
  • प्रदेश कांग्रेस का कहना है कि राज्य सरकार अमानवीय हो गई है। केंद्र सरकार ने नगा उग्रवादियी समूह के सामने घुटने टेक दिए हैं

गुवाहाटी।

प्रदेश कांग्रेस का कहना है कि राज्य सरकार अमानवीय हो गई है। केंद्र सरकार ने नगा उग्रवादियी समूह के सामने घुटने टेक दिए हैं। पार्टी मानवाधिकार आयोग और अदालत की शरण लेने पर गंभीरता से विचार कर रही है। 



पार्टी के मीडिया विभाग के प्रमुख और वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रद्युत बरदलै के मुताबिक केंद्र की भाजपा नीत सरकार असम के हितों के खिलाफ काम कर रही है। यूपीए के समय पूर्वोत्तर में औद्योगित निवेश बढ़ाने के लिए लागू उत्तर पूर्व औद्योगित निवेश प्रोत्साहन परियोजना (एनईआईआईपीपी) को मोदी सरकार ने आते ही स्थगित कर दी। 



बाबा रामदेव को संतुष्ट करने के लिए दिसंबर 2016 से चार माह के लिए फिर खोल दिया। राज्य के पूर्व ऊर्जा व उद्योग वाणिज्य मंत्री बरदलै ने पत्रकारों के सामने दावा किया कि 31 मार्च के पहले बाड़ीपाड़ा में पतंजलि का उत्पादन शुरु ही नहीं हो पाया था। बाहर उत्पादित सामान में यहां का लेवल लगाकर एनईआईआईपीपी को लाभ लेने के लिए झांसा दिया गया है। मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग करते हुए बरदलै ने राज्य सरकार को पतंजलि के बारे में श्वेतपत्र जारी करने की चुनौती दी। 



वृहत्तर नगालिम पर एनएससीएन (आईएम) के साथ फ्रेमवर्क समझौते को जाहिर करने की कांग्रेस विधायक दल के नेता देवब्रत सइकिया की मांग का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि उक्त समझौते के आधार पर किसी हालत में असम की एक इंच भूमि नगालिम में जाने नहीं दी जाएगी।