असम में खुला वाटर एटीएम, जानिए कैसे करता है काम

Daily news network Posted: 2017-05-16 15:47:19 IST Updated: 2017-05-16 15:47:19 IST
असम में खुला वाटर एटीएम, जानिए कैसे करता है काम
  • मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने डिब्रूगढ़ के कदोमनी जल आपूर्ति योजना परिसर में पीने का पानी आरओ युक्त वाटर एटीएम का विधिवत उद्घाटन किया

नई दिल्ली।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने डिब्रूगढ़ के कदोमनी जल आपूर्ति योजना परिसर में पीने का पानी आरओ युक्त वाटर एटीएम का विधिवत उद्घाटन किया। डिब्रूगढ़ जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से आम लोगों को पीने का शुद्ध पानी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इस तरह की व्यवस्था की गई है। एटीएम से बिना नकद भुगतान किए स्मार्ट कार्ड से जल उपलब्ध होगा। इस उपकरण में प्रति घंटा एक हजार लीटर आरओ युक्त शुद्ध पानी निकल सकेगा।


जानिए कैसे काम करता है वॉटर एटीएम

वॉटर एटीएम रिवर्स ऑस्मोसिस टेक्नोलॉजी के जरिए पानी को साफ करता है। इस आरो भी कहा जाता है। इस मशीन में सेमि परमिएबल मेंबरेंस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। इस तकनीक के जरिए पानी को तेजी से आगे की ओर बढ़ाया जाता है, जिससे पानी में मौजूद दूषक तत्व साफ हो जाते हैं। ये प्रोजेक्ट पब्लिक हैल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट और जिला प्रशासन की संयुक्त पहल है। इस पर करीब नौ लाख 74 हजार रुपए का खर्चा आया है। पी.पी समिति ने एक तिहाई पैसा इस स्कीम के तहत दिया है। डिब्रूगढ़ के पीएचई एग्जिक्यूटिव इंजीनियर भास्कर ज्योति ने बताया कि इस प्लांट की क्षमता दस हजार लीटर प्रतिदिन की है। इससे दो हजार घरों को फायदा होगा। 



आम लोगों को कैसे मिलेगा पानी

वॉटर एटीएम से पानी ललेने के लिए आपको स्मार्टकार्ड और डिस्पेसर लेना जरूरी होगा। इस स्मार्टकार्ड को पाने के लिए आपको 240 रुपए खर्च करने होंगे। हालांकि अगर आप अपना रजिस्ट्रेशन सरेंडर कर देते हैं तो 240 रुपए लौटा दिए जाएंगे। इस मशीन में एक बार स्वैप करने पर बीस लीटर पानी निकलेगा। इसके लिए 10 रुपए का चार्ज लिया जाएगा, जो कि आपके द्वारा पहले से जमा कराए गए 240 रुपए में कट जाएगा। वहीं  जिनके पास स्मार्टकार्ड नहीं है, वे एटीएम के कैयरटेकर को पैसा देकर पानी खरीद सकते हैं। पैसा देने के बाद केयरटेकर अपना स्मार्टकार्ड एटीएम मशीन में यूज करेगा।