असम बाढ़: अब तक 65 की मौत, 10 लाख लोग प्रभावित

Daily news network Posted: 2017-07-18 09:13:39 IST Updated: 2017-07-18 09:13:39 IST
असम बाढ़: अब तक 65 की मौत, 10 लाख लोग प्रभावित
  • असम में भारी बारिश के बाद पैदा हुए बाढ़ के हालात से जनजीवन अभी भी प्रभावित है। इस भयानक बाढ़ के चलते अब तक 65 लोगों की मौत हो चुकी है।

गुवाहाटी।

असम में भारी बारिश के बाद पैदा हुए बाढ़ के हालात से जनजीवन अभी भी प्रभावित है। इस भयानक बाढ़ के चलते अब तक 65 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 21 जिलों के 10 लाख से भी ज्यादा लोग प्रभावित हैं। हालांकि जलस्तर में थोड़ा गिरावट होने के चलते निचले हिस्सों में मामूली सुधार देखा गया है। अकेले राज्य के गुवाहाटी में ही आठ लोगों की मौत हुई है।


असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की रिपोर्ट के अनुसार मोरीगांव जिले में एक व्यक्ति की मौत हो जाने से इस साल बाढ़ जनित घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर 65 हो गई है। राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने उपायुक्तों को निर्देश दिया कि प्रभावित परिवारों को अविलंब राहत सामग्री मुहैया कराई जाए। 


प्राधिकरण ने बताया कि फिलहाल राज्य के धेमाजी, लखीमपुर, बिस्वनाथ, दरांग, नलबाड़ी, बारपेटा, बोंगईगांव, चिरांग, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सल्मारा, ग्वालपाड़ा, मोरीगांव, नगांव, कार्बी आंगलांग, गोलाघाट, जोरहाट, माजुली, शिवसागर, करीमगंज और कछार जिलों में 10 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं। 


काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 38 प्रतिशत हिस्सा जलमग्न हो गया है जिसके कारण कुछ पशु भी मारे गये हैं और कुछ पास में उंचाई वाले स्थान पर चले गये हैं। 1,512 गांव जलमग्न हैं और बरीक 50,000 हेक्टेयर में लगी फसल जलमग्न हो गयी है।  प्राधिकरण ने बताया कि सरकार बाढ़ पीडि़तों के बीच चावल, दाल, नमक और सरसों तेल वितरित कर रही है।