असम में नहीं रुक रहा गैंडों का शिकार, राज्यपाल ने मांगी सुरक्षा एजेंसियों की मदद

Daily news network Posted: 2018-02-13 16:13:29 IST Updated: 2018-02-13 16:34:33 IST
असम में नहीं रुक रहा गैंडों का शिकार, राज्यपाल ने मांगी सुरक्षा एजेंसियों की मदद
  • असम के राज्यपाल जगदीश मुखी ने सुरक्षा एजेंसियों से राज्य के काजीरंगा नेशनल पार्क में अवैध रूप से हाे रहे गैंडों के शिकार को रोकने में मदद की मांगी है।

गुवाहाटी।

असम के राज्यपाल जगदीश मुखी ने सुरक्षा एजेंसियों से राज्य के काजीरंगा नेशनल पार्क में अवैध रूप से हाे रहे गैंडों के शिकार को रोकने में मदद की मांगी है। शनिवार को मुखी ने कानून व्यवस्था को लेकर एक बैठक की जिसमें असम के गाेलाघाट जिले के लाॅ इंर्फोसिंग एजेंसी से कहा कि अंतरराज्यीय मुद्दे का परिचालन करने के लिए उन्हें तैयार रहना चाहिए।



इसके साथ कह मुखी ने कहा कि काजीरंगा नेशनल पार्क के एक सींघ वाले गैंडे के कारण  असम का नाम पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। शिकारियों के द्वारा इन गैंडाें की लगातार हत्या हो रही है, ये राज्य के गौरव पर हमला है। हालांकि महीनों से गैंडों के अवैध शिकार की घटनाएं कम हुर्इ है।

 



इस पर उन्होंने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों को चौकन्ना रहना चाहिए ताकि शिकारियों के नापाक इरादे कामयाब न होने पाए। इसके अलावा मुखी ने इस मसले पर जिला के पुलिस अधीक्षक से भी बात की। उन्होंने शांति बनाए रखने के लिए आैर स्थिति को सामान्य रखने के लिए सुरक्षा बलों की मदद मांगी है।



इसके अलावा राज्यपाल ने जिले में स्वास्थ्य, स्वच्छता, पीने के पानी, शिक्षा, सड़क आैर संचार के साथ कृषि के अन्य मुद्दों पर भी बात की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि असम के साथ जब नार्थ र्इस्ट के दूसरे राज्यों का विकास होगा तभी देश के अन्य इलाकों का भी विकास हाे सकता है।