असम के राज्यपाल ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा

Daily news network Posted: 2017-07-14 14:34:59 IST Updated: 2017-07-14 14:34:59 IST
असम के राज्यपाल ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा
  • असम के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने शुक्रवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित लखीमपुर जिले के नाओबोइचा क्षेत्र का दौरा किया

गुवाहाटी।

असम के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने शुक्रवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित लखीमपुर जिले के नाओबोइचा क्षेत्र का दौरा किया। बाढ़ ने असम में भारी तबाही मचाई है। बाढ़ से जान माल का भारी नुकसान हुआ है। असम में पिछले 24 घंटे में 5 और लोगों की मौत हो गई। इस तरह बाढ़ से मरने वालों की संख्या 49 हो गई है।


बाढ़ के कारण लोगों को मृदा क्षरण और भूस्खलन जैसी समस्याओं से भी दो चार होना पड़ रहा है। लिलाबाड़ी एयरपोर्ट पहुंचने के बाद राज्यपाल सीधे बाढ़ से उत्पन्न हालात का जायजा लेने नाओबोइचा पहुंचे। राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने पीडि़तों से बात की और उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली। जानकारी के मुताबिक लखीमपुर जिला बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित है। गुरुवार को केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने भी दौरा किया था।


उन्होंने बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित लखीमपुर, धेमाजी और माजुली का हवाई सर्वेक्षण भी किया था। बताया जा रहा है कि ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियों में आई बाढ़ से 1.06 लाख हेक्टेयर में खड़ी फसल बर्बाद हो गई है। बाढ़ से आधारभूत ढांचा भी तबाह हुआ है। तटबंधों के टूटने से सड़कें और पुल पानी में बह गए हैं। इससे जमीनी कम्यूनिकेशन प्रभावित हुआ है।



उधर, मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री निजी तौर पर असम की बाढ़ समस्या को लेकर चिंतित हैं और निगरानी कर रहे हैं। इसलिए चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि लाखों लोग बाढ़ पीडि़त हैं, कुछ तक तत्काल राहत नहीं पहुंच सकती है, लेकिन प्रशासन हर किसी तक पहुंचाने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने खुद राहत शिविरों का दौरा किया और लोगों ने खाद्य सामग्रियां मिलने की बात स्वाकार की है। उन्होंने बताया कि काजीरंगा राष्ट्रीय पार्क के वनकर्मी बाढ़ के पानी में रात दिन एक कर वन्यजीवों को बचाने में लगे है। उन्होंने कहा कि बाढ़ समस्या गंभीर है और सभी को मिलकर इसका मुकाबला करना होगा।