दिल्ली एनसीआर की तर्ज पर होगा असम एससीआर का गठन

Daily news network Posted: 2017-09-16 13:46:44 IST Updated: 2017-09-16 13:46:44 IST
दिल्ली एनसीआर की तर्ज पर होगा असम एससीआर का गठन
  • नई दिल्ली के राष्ट्रिय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) की तर्ज पर असम में भी गुवाहाटी और इसके आसपास के जिलों के कुछ इलाकों को समेटकर राज्य राजधानी क्षेत्र (एससीआर ) घोषित

गुवाहाटी

नई दिल्ली के राष्ट्रिय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) की तर्ज पर असम में भी गुवाहाटी और इसके आसपास के जिलों के कुछ इलाकों को समेटकर राज्य राजधानी क्षेत्र (एससीआर ) घोषित करने का राज्य विधानसभा में विधेयक 'दि आसाम स्टेट कैपिटल रीजन डेवलपमेंट  ऑथोरिटी बिल -2017 'शुक्रवार को पारित किया गया है।



राज्य राजधानी क्षेत्र  कामरूप (मेट्रो) जिले के सभी सर्किल, कामरूप जिले के हाजो, पलाशबाड़ी, कमालपुर, रंगिया, गैरमारी, छयगांव, बोको, उत्तरी गुवाहाटी और कोया सर्किल, नलबाड़ी जिले के बरक्षेत्री, नलबाड़ी, पश्चिम नलबाड़ी,  घग्रापार, बरभाग, बनेकुचि सर्किल, दरंग जिले का सिपाझाड़ सर्किल और मोरीगांव जिले के मायंग और मोरीगांव सर्किल को शामिल किया गया है।



इसके साथ ही वहां जमीन के भाव बढ़ने के साथ नए निवेश की सम्भावना भी बढ़ी है. मानसून सत्र के आज अंतिम दिन सदन में विधेयक पर हुई चर्चा के जवाब में गुवाहाटी के विकास विभाग के मंत्री डॉ।  हिमंत विश्व शर्मा ने बताया कि  पिछले साल सोनोवाल  ने एनसीआर की तर्ज पर असम में भी गुवाहाटी और इसके आसपास के इलाकों को राज्य राजधानी में सम्मिलित करने की घोषणा की थी।



सरकार ने इसलिए ये विधेयक को लाया है जिससे इससे राज्य तथा पूर्वोत्तर के आर्थिक विकास में मदद बल मिल सके. इसके जरिए एससीआर के चहुंमुखी विकास के लिए एक ही एक ही प्राधिकरण होगा, जिसकी देखरेख में विकास को बल मिलेगा। 



इससे पहले सदन में सत्ता पक्ष और विपक्ष के कई विधायकों ने सरकार द्वारा लाये इस विधेयक पर चर्चा की चर्चा के दौरान कई विधायकों ने इस विधेयक का स्वागत किया।