असम: गैंगरेप और हत्या के 11 दिन बाद भी पुलिस के हाथ नहीं लगे आरोपी

Daily news network Posted: 2017-05-20 16:41:53 IST Updated: 2017-05-20 16:41:53 IST
असम: गैंगरेप और हत्या के 11 दिन बाद भी पुलिस के हाथ नहीं लगे आरोपी
  • असम के कार्बी आंगलोंग जिले में 21 वर्षीय युवती की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। घटना 10 मई की है।

गुवाहाटी।

असम के कार्बी आंगलोंग जिले में 21 वर्षीय युवती की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। घटना 10 मई की है। इसे असम का निर्भया कांड बताया जा रहा है। घटना को 11 दिन हो गए हैं लेकिन पुलिस अभी तक मुख्य आरोपी सहित दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। तीनों आरोपी फरार हैं। इस बीच राज्य के महिला आयोग की टीम के अगले दो दिनों में पीडि़ता के घर जाने की उम्मीद है। 



चिकिमिंकी तालुकदार के नेतृत्व वाली आयोग की टीम पीडि़त परिवार से मुलाकात करेगी। साथ ही हालात का जायजा लेगी। स्थानीय लोग और संगठन पीडि़ता के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं। वे सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। अभी तक 4 आरोपी गिरफ्तार हुए हैं लेकिन मुख्य आरोपी बाबू तेरोन सहित अन्य तीन आरोपी अभी भी फरार हैं। 


10 मई को उस वक्त युवती से गैंगरेप किया गया था जब वह एक सांस्कृतिक कार्यक्रम से अपने पुरुष मित्र के साथ लौट रही थी। इनके साथ एक कपल भी था। आरोपियों ने सभी का रास्ता रोक दिया। कपल मौके से भाग गया। बदमाशों ने युवती के पुरुष मित्र को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई की। इसके बाद युवती को नजदीकी जंगल में ले जाकर गैंगरेप किया। अगले दिन ग्रामीणों ने युवती का शव पेड़ पर लटका देखा। पीडि़त परिवार और युवती के पुरुष मित्र ने अगले दिन पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। पीडि़ता के पुरुष मित्र के बयान के आधार पर सभी सातों आरोपियों की पहचान हुई थी। 



पुलिस ने जिन चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है उनकी पहचान फरीम बे(30),महाजन सेमेर(19),जॉयसिंह क्रो(20) और रुपसिंह फोंग्सो(19) के रूप में हुई है। पुलिस अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सिर्फ चश्मदीदों की जानकारी पर निर्भर है क्योंकि फरार आरोपी कोई भी इलेक्ट्रोनिक गैजेट और मोबाइल फोन इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, इसलिए उनको ट्रैक करना मुश्किल हो गया है। असम के महिला आयोग ने घटना पर स्वत: संज्ञान लेते हुए केस दर्ज किया। महिला आयोग ने पुलिस अधीक्षक से तुरंत एक्शन टेकन रिपोर्ट मांगी है।