बराक घाटी में होगा मिनी सचिवालय: सोनोवाल

Daily news network Posted: 2017-10-13 13:45:18 IST Updated: 2017-10-13 13:45:18 IST
बराक घाटी में होगा मिनी सचिवालय: सोनोवाल
  • मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने बराक घाटी को एक बड़ी खुशखबरी दी है। वह ये कि वहां के लोगों को किसी प्रशासनिक कामकाज के लिए इतनी लंबी दूरी तय कर गुवाहाटी आने की जरूरत नहीं पड़ेगी

गुवाहाटी।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने बराक घाटी को एक बड़ी खुशखबरी दी है। वह ये कि वहां के लोगों को किसी प्रशासनिक कामकाज के लिए इतनी लंबी दूरी तय कर गुवाहाटी आने की जरूरत नहीं पड़ेगी। सरकार ने वहां एक मिनी सचिवालय के स्थापना की योजना बनाई है। शीघ्र ही इस पर काम शुरु किया जाएगा।



उन्होंने यह भी बताया कि बराक घाटी के राष्ट्रीय राजमार्गों के विकास के लिए सरकार ने पांच सौ करोड़ की मंजूरी दी है। उधारबंद के सिलचर-कुभीरग्राम सड़क विकास (महासड़क के गोसाईंपुर प्वाइंट से कुंभीरग्राम हवाई अड्डे) परियोजना की आधारशिला रखते हुए मुख्यमंत्री सोनोवाल ने कहा कि 16 किलोमीटर से लंबी यह प्रस्तावित सड़क विकास परियोजना बराक घाटी की सड़क यातायात के क्षेत्र में एक नई दिशा प्रदान करेगी।


उन्होंने कहा कि सरकार इस घाटी की सड़क यातायात के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि सरकार ने बराक घाटी के जिलों में नई सड़क के साथ समग्र सड़क यातायात व्यवस्था के कायाकल्प पर विशेष जोर दिया है। यहां के सभी रास्तों का पक्कीकरण किया जाएगा। साथ ही अन्य जिलों को जोडऩे वाली सड़कों की हालत भी सुधारी जाएगी। त्रिपुरा और असम के बीच यातायात मार्ग को ठीक करने के लिए त्रिपुरा को जोडऩे वाली राष्ट्रीय राजमार्ग की हालत सुधारने की भी व्यवस्था की जाएगी।



इस कार्यक्रम में ही उधारबंद राजस्व सर्किल के तहत गोसाईंपुर ब्लॉक 3 में वज्रपात से मरने वाली तीन व्यक्ति के परिजनों को चार चार लाख रुपए के चेक दिए गए। समारोह में असम विधानसभा के उपाध्यक्ष दिलीप कुमार पाल, लोकनिर्माण मंत्री परिमल शुक्लवैद्य सहित कई विधायक मौजूद थे।