वामपंथियों के गढ़ त्रिपुरा में गरजेंगे योगी, मोदी भी बोलेंगे हमला

Daily news network Posted: 2018-01-12 19:12:16 IST Updated: 2018-01-12 19:12:16 IST
वामपंथियों के गढ़ त्रिपुरा में गरजेंगे योगी, मोदी भी बोलेंगे हमला
  • भाजपा ने लेफ्ट शासित त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के प्रचार को तेज करने के लिए गुरुवार को 15 सदस्यीय स्टेट इलेक्शन कैंपेन कमेटी का ऐलान कर दिया।

अगरतला।

भाजपा ने लेफ्ट शासित त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के प्रचार को तेज करने के लिए गुरुवार को 15 सदस्यीय स्टेट इलेक्शन कैंपेन कमेटी का ऐलान कर दिया। एक बयान में प्रदेशाध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने कहा कि उन्हें विधायक और वरिष्ठ नेता सुदीप रॉय बर्मन व रतन लाल नाथ के साथ संयोजक नियुक्त किया गया है। बर्मन और नाथ को सह संयोजक बनाया गया है। देब ने कहा कि लेफ्ट गठबंधन के खिलाफ पार्टी कार्यकर्ताओं को मनोबल को बढ़ाने के लिए अगले कुछ सप्ताह में स्टार कैंपेनर्स के होस्ट राज्य का दौरा करेंगे। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस माह के तीसरे सप्ताह में त्रिपुरा आएंगे।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, जिन्होंने हाल ही में त्रिपुरा का दो दिवसीय दौरा किया था, दूसरे दौरे के तहत फिर त्रिपुरा आएंगे। देब ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सूचना व प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी, असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल त्रिपुरिा में अन्य स्टार कैंपेनर्स होंगे। प्रचार समिति में जिष्णु देबबर्मन, रामपाडा जमातिया, सुबल भौमिक, जितेन सरकार, मोहम्मद जसीम उद्दीन जैसे इंडिजिनस नेता शामिल होंगे। ये सभी अन्य दलों से भाजपा में आए हैं आपको बता दें कि त्रिपुरा में अगले माह फरवरी में विधानसभा चुनाव होने हैं।

गुरुवार को भाजपा को उस वक्त बड़ी कामयाबी मिली जब स्टेट लोकजनशक्ति पार्टी(एलजेपी) की अध्यक्ष पापरी हल्दर और महिला कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष विभा नाथ पार्टी में शामिल हो गई। हल्दर ने भाजपा के राज्य मुख्यालय में पत्रकारों को बताया कि लोकजनशक्ति पार्टी के 4 हजार से ज्यादा कार्याकर्ता अगले कुछ दिनों में भाजपा में शामिल होंगे। आपको बता दें कि लोकजनशक्ति पार्टी बिहार में भाजपा की प्रमुख सहयोगी दल है और वह केन्द्र में नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस(एनडए) की भी घटक है।

एलजेपी ने मणिपुर में भाजपा का समर्थन किया है। जब हल्दर से पूछा गया कि एलजेपी ने भाजपा में विलय की बजाय उससे गठबंधन क्यों नहीं किया तो उन्होंने कहा कि मैंने लोकजनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राम विलास पासवान से चर्चा के बाद भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।

त्रिपुरा में सत्तारुढ़ लेफ्ट फ्रंट के खिलाफ संयुक्त लड़ाई की अपील करते हुए उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि लेफ्ट के खिलाफ बिखरा हुआ संघर्ष काम नहीं करेगा। हमें साथ आने की जरूरत है। मैंने भाजपा में शामिल होने से पहले मामले पर पासन जी से बात। रामविलास पासवान लेफ्ट फ्रंट सरकार के खिलाफ प्रचार के लिए त्रिपुरा आएंगे। नाथ जो पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता है ने कहा कि राज्य में महिलाओं के प्रोटेक्शन के लिए काम करने के वास्ते वह भाजपा में शामिल हुई है।