त्रिपुरा में कांग्रेस और ममता को झटका, भाजपा में शामिल होंगे विधायक!

Daily news network Posted: 2017-05-18 11:42:23 IST Updated: 2017-05-18 11:42:23 IST
त्रिपुरा में कांग्रेस और ममता को झटका, भाजपा में शामिल होंगे विधायक!
  • एंटी लेफ्ट वोटों के बंटवारे को रोकने के लिए त्रिपुरा में भाजपा ने विपक्ष के सभी 9 विधायकों को 31 मई तक पार्टी में शामिल होने को कहा है

अगरतला।

एंटी लेफ्ट वोटों के बंटवारे को रोकने के लिए त्रिपुरा में भाजपा ने विपक्ष के सभी 9 विधायकों को 31 मई तक पार्टी में शामिल होने को कहा है। राज्य भाजपा के अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने कहा कि विपक्ष के 9 विधायकों ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, पार्टी महासचिव राम माधव और नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के संयोजक हिमंता बिस्वा सरमा सहित उनसे संपर्क किया है। 



9 विपक्षी विधायकों ने भाजपा में शामिल होने की इच्छा जाहिर की है। देब ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से इस मसले पर कुछ स्तरों पर चर्चा हुई थी। हमने इस बात पर भी गौर किया है कि उनके भाजपा में शामिल होने से क्या फायदा और नुकसान होगा। 



मंगलवार को गुवाहाटी में पार्टी मीटिंग हुई थी। इसमें विपक्ष के 9 विधायकों को पार्टी में शामिल करने पर चर्चा हुई थी। भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस के 6 और कांग्रेस के 3 विधायकों को पार्टी में शामिल करने के लिए दो शर्तें रखी है। पहली कि सभी को 31 मई तक पार्टी में शामिल होना होगा। साथ ही किसी को भी पार्टी में लीडरशिप का आश्वासन नहीं दिया जाएगा। 




देब ने कहा कि 31 मई के बाद विपक्ष के किसी भी विधायक को स्वीकार नहीं किया जाएगा। पार्टी सभी 60 सीटों पर लेफ्ट फ्रंट के खिलाफ लड़ाई के लिए अपनी चुनावी रणनीति पर फैसला लेगी। उन्होंने कहा कि विपक्षी विधायकों के लिए डेडलाइन इसलिए तय की गई है क्योंकि भाजपा को 9 सीटों के लिए उम्मीदवारों पर फैसला करना है। इन 9 सीटों से फिलहाल विपक्षी दलों के विधायक हैं। 




कईयों का मानना है कि इस कदम का मकसद टीएमसी नेता और विधायक सुदीप रॉय बर्मन की पांच अन्य विधायकों के साथ भाजपा में एंट्री कराना है। तृणमूल कांग्रेस के 5 विधायकों ने पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवारों को हराया था। कांग्रेस विधायक रतन लाल नाथ पहले ही भाजपा में शामिल होने के संकेत दे चुके हैं। दो अन्य पार्टी विधायक गोपाल रॉय और बिरजित सिन्हा कांग्रेस के साथ जुड़े रहने के संकेत दे चुके हैं।