फिर बोले आरपी शर्मा, पार्टी और सांसद के बीच जुबानी जंग जारी

Daily news network Posted: 2017-10-11 13:56:46 IST Updated: 2017-10-11 13:58:55 IST
फिर बोले आरपी शर्मा, पार्टी और सांसद के बीच जुबानी जंग जारी
  • पार्टी की मनाही के बावजूद तेजपुर सांसद आरपी शर्मा के बोल रुक नहीं रहे हैं। पार्टी और सांसद के बीच अब जुबानी जंग शुरू हो गई है।

गुवाहाटी।

पार्टी की मनाही के बावजूद तेजपुर सांसद आरपी शर्मा के बोल रुक नहीं रहे हैं। पार्टी और सांसद के बीच अब जुबानी जंग शुरू हो गई है।

पार्टी और सांसद के बीच अब जुबानी जंग शुरू हो गई है। आरएसएस और भाजपा के जन्म लग्न से जुड़े होने की सांसद के दावों को पार्टी ने झूठा करार दिया हैेे।

पार्टी का कहना है कि आरपी झूठ बोल रहे हैं और 1991 में भाजपा में शामिल होने से पहले आरपी कांग्रेस के कार्यकर्ता थे।

सांसद शर्मा ने पिछले दिनों कहा था कि वे पिछले 40 सालों से संघ की सेवा कर रहे हैं और किसी से डरते नहीं है। भ्रष्टाटार के खिलाफ उनकी आवाज बुलंद होती रहेगी। मंगलवार को पार्टी के मीडिया संपर्क विभाग के संयोजक देवान ध्रुवज्योति मराल द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में पार्टी की ओर से कहा गया है कि अप्रैल 1980 में अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में भाजपा बनी थी और 11 साल बाद आरपी शर्मा भाजपा में शामिल हुए थे। उससे पहले वे कांग्रेस के सदस्य के रूप में काम कर रहे थे।