मेघालय: कांग्रेस में फूट,विधायकों के खिलाफ काम कर रहे हैं मंत्री!

Daily news network Posted: 2017-05-18 18:13:55 IST Updated: 2017-05-18 18:13:55 IST
मेघालय: कांग्रेस में फूट,विधायकों के खिलाफ काम कर रहे हैं मंत्री!
  • मेघालय में अगले साल विधानसभा चुनाव है लेकिन पार्टी में अभी से घमासान शुरू हो गया है

शिलॉन्ग।

मेघालय में अगले साल विधानसभा चुनाव है लेकिन पार्टी में अभी से घमासान शुरू हो गया है। विपक्षी दल भाजपा को इस बात की चिंता नहीं है कि कांग्रेस को किस तरह अस्थिर किया जाए क्योंकि सत्तारुढ़ पार्टी में चल रही अंदरुनी लड़ाई विधानसभा चुनाव से पहले खुलकर सामने आ गई है। 


मेघालय प्रदेश कांग्रेस कमेटी(एमपीसीसी)को कुछ विधानसभा क्षेत्रों से मौखिक और लिखित में शिकायतें मिली है कि कांग्रेस के कुछ मंत्री पार्टी के मौजूदा विधायकों के खिलाफ काम कर रहे हैं। वे अपने उम्मीदवारों को प्रोजेक्ट कर रहे हैं। जेन्तिया हिल्स में पार्टी की अंदरुनी लड़ाई सामने आ गई है जहां वरिष्ठ कांग्रेस नेता और उप मुख्यमंत्री आर.सी.लालू को अपनी ही पार्टी के विधायक और ऊर्जा मंत्री ए.धर से बगावत झेलनी पड़ रही है। लालू पांच बार से जोवई विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। 


धर ने कथित रूप से अपने साले को लालू के खिलाफ जोवई से उम्मीदवार के रूप में प्रोजेक्ट कर रहे हैं। नरटियांग से दो बार विधायक धर के खिलाफ पीसीसी चीफ डी.डी.लपांग को शिकायत की गई है। यह शिकायत जोवई ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने की है। धर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है। धर के खिलाफ शिकायत पर जब लपांग से पूछा गया तो उन्होंने कहा, अभी तक शिकायत नहीं देखी है। हम प्रक्रिया के मुताबिक आगे बढ़ेंगे। हमारे यहां अनुशासनात्मक समिति है। पार्टी गाइडलाइंस के मुताबिक हम कड़ी कार्रवाई करेंगे। 



जब उनसे पूछा गया कि धर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है तो लपांग ने कहा, कारण बताओ पार्टी का ही एक प्रोसिजर है। चाहे बड़ा हो या छोटा,जो पार्टी विरोधी गतिविधयों में शामिल होगा उसे कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। जब एमपीसीसी चीफ से पूछा गया कि क्या धर को कैबिनेट से हटाने की सिफारिश की जाएगा तो उन्होंने कहा,इसका जवाब देना अभी जल्दबाजी होगी। हम केस की मेरिट के मुताबिक आगे बढ़ेंगे। जब लपांग से पूछा गया कि आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि कांग्रेस के विधायक और मंत्री पार्टी के लिए काम करेंगे तो उन्होंने कहा, पार्टी का अनुशासन सभी को गाइड करेगा। 



अगले साल के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के अच्छा प्रदर्शन नहीं करने संबंधी राय पर पीसीसी चीफ ने कहा कि जब चुनाव नजदीक होते हैं तो वे हमेशा कांग्रेस पर हमला करना पसंद करते हैं। यह नेचुरल है कि बड़े पेड़ पर सबसे पहले  बारिश गिरती है न कि छोटे पेड़ और घास पर लेकिन हम इसे एंजॉय कर रहे हैं क्योंकि हमें सभी दुश्मनों का पता है। जब उनसे पूछा गया है कि इस तरह की खबरें हैं कि विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के कई मंत्री और विधायक पार्टी छोड़ देंगे तो लपांग ने कहा कि समाचार पत्र ऐसा कह सकते हैं लेकिन हमें अभी भी यकीन हैजब तक यह सच्चाई में तब्दील नहीं होता। 



जब उनसे पूछा गया कि अगर कांग्रेस विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित करेगी तो लपांग ने कहा कि विभिन्न यूनिटों से सुझाव मिले हैं कि पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवारों के नाम जल्द घोषित करने चाहिए ताकि जिनको टिकट मिलें उनके पास चुनावी तैयारियों के लिए पर्याप्त समय मिल सके। हम पार्टी आलाकमान के साथ इस पर काम करेंगे। राज्य में कांग्रेस की ताकत के बारे में पूछे जाने पर लपांग ने कहा कि इस समय पार्टी के 2.62 लाख सदस्य हैं। हम 10 लाख सदस्य बना लेंगे। इससे लगता है कि लोग कांग्रेस की ओर दौड़ रहे हैं।