अखिल की रिहाई के लिए शुरू होगा नेशनल कैंपेन, कांग्रेस देगी नैतिक समर्थन

Daily news network Posted: 2017-11-14 10:54:10 IST Updated: 2017-11-14 10:54:10 IST
अखिल की रिहाई के लिए शुरू होगा नेशनल कैंपेन, कांग्रेस देगी नैतिक समर्थन
  • कृषक मुक्ति संग्राम समिति के नेता अखिल गोगोई की जेल से तुरंत रिहाई की मांग को लेकर अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति राष्ट्रीय अभियान शुरू करेगी

गुवाहाटी।

कृषक मुक्ति संग्राम समिति के नेता अखिल गोगोई की जेल से तुरंत रिहाई की मांग को लेकर अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति राष्ट्रीय अभियान शुरू करेगी। कांग्रेस इस अभियान का नैतिक रूप से समर्थन करेगी। असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष प्रद्युत बोरदोलोई ने सोमवार को कहा, कई मुद्दों पर हमारे अखिल गोगोई और कृषक मुक्ति संग्राम समिति से मतभेद हैं लेकिन हम उनकी गिरफ्तारी और नेशनल सिक्योरिटी एक्ट के तहत उनके खिलाफ केस दर्ज करने का समर्थन नहीं कर सकते।


भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार की नुकसान पहुंचाने वाली नीतियों के खिलाफ वह मजबूत आवाज है। उनकी गिरफ्तारी की वजह विपक्ष की आवाज को दबाना है। यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के खिलाफ है। आपको बता दें कि अखिल की गिरफ्तारी के मसले पर चर्चा के लिए शनिवार को महाराष्ट्र से सांसद राजू शेट्टी ने असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल से उनके डिब्रूगढ़ स्थित आवास पर मुलाकात की कोशिश की थी लेकिन मुख्यमंत्री के सुरक्षा कर्मियों ने शेट्टी को यह कहकर लौटा दिया कि सोनोवाल सो रहे हैं।


इस पर बोरदोलोई ने कहा, प्रत्येक मुद्दे पर सोनोवाल का कमजोर स्टैंड है। उनके पास अखिल की गिरफ्तारी पर किसी अन्य राज्य के सांसद से चर्चा करने की हिम्मत नहीं है। यह मेहमान का अपमान है। सोनोवाल सभी फैसले उनके आलाकमान के निर्देशों पर लेते हैं। यह असम के लोगों के लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि सोनोवाल कम्यूनिटी लीडर की इमेज के साथ सत्ता में आए थे। यहां तक कि डिब्रूगढ़ जेल के जेलर को सिर्फ इसलिए सस्पेंड कर दिया क्योंकि उसने असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष देबब्रत सैकिया और विधायक रुपज्योति कुर्मी को अखिल गोगोई से जेल में मिलने की इजाजत दी थी। 1 नवंबर को सैकिया और कुर्मी ने अखिल गोगोई से जेल में मुलाकात की थी। डिब्रूगढ़ सेंट्रल जेल के जेलर अरुप कुमार पतांगिया ने दोनों नेताओं को अखिल के साथ जेल में तस्वीरें लेने की अनुमति दी थी। इसके चलते जेलर अरुप कुमार को सस्पेंड कर दिया गया था।


अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक सुनीलम ने कहा, हम सभी दलों और लोगों का स्वागत करते हैं जो हमारे अभियान में शामिल होना चाहते हैं। जल्द ही एक वर्किंग कमेटी बनाई जाएगी। सुनीलम ने कहा कि भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के नेता अन्ना हजारे, कई बुद्धिजीवी और संगठन,जिनमें एमनेस्टी इंटरनेशनल, पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज और एशियन ह्यूमन राइट्स कमीशन शामिल है, हमारे अभियान में शामिल होंगे। आपको बता दें कि आरटीआई एक्टिविस्ट अखिल गोगोई को देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन्हें 12 सितंबर को मोरान के बामुनबारी में एक जनसभा के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। असम के विभिन्न थानों में अखिल गोगोई के खिलाफ 12 मामले दर्ज किए गए हैं।