पंजाब चुनाव: एक दशक से सत्ता से बेदखल कांग्रेस का चला जादू

Daily news network Posted: 2017-03-11 18:19:40 IST Updated: 2017-03-11 18:19:40 IST
पंजाब चुनाव: एक दशक से सत्ता से बेदखल कांग्रेस का चला जादू
  • पिछले एक दशक से सत्ता से बेदखल कांग्रेस पार्टी पंजाब में दो-तिहाई बहुमत हासिल कर लिया है। पंजाब विधानसभा की 117 सीटों पर हुए चुनाव में शनिवार को मतगणना में कांग्रेस ने 77 सीटों पर जीत दर्ज की है।

चंडीगढ।

पिछले एक दशक से सत्ता से बेदखल कांग्रेस पार्टी पंजाब में दो-तिहाई बहुमत हासिल कर लिया है। पंजाब विधानसभा की 117 सीटों पर हुए चुनाव में शनिवार को मतगणना में कांग्रेस ने 77 सीटों पर जीत दर्ज की है। कांग्रेस के दिग्गज नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह एक बार फिर राज्य के मुख्यमंत्री की कमान संभाल सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमरिंदर सिंह को फोन कर बधाई दी है।

आम आदमी पार्टी ने चुनाव से पहले पंजाब में 100 सीटें तक जीतने का दावा किया था, लेकिन वह 20 सीटें ही जीतने में कामयाब रही। इसकी साझेदार पार्टी लोक इंसाफ पार्टी सिर्फ दो सीटें ही जीत पाई। शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन 18 सीटों पर जीत दर्ज कर तीसरे स्थान पर है। पंजाब की मौजूदा सरकार के 10 मंत्री चुनाव हार गए हैं जिसमें भाजपा के चारों विधायक भी शामिल हैं।

आज के ही दिन अपना 75वां जन्मदिन मना रहे अमरिंदर सिंह ने पार्टी की इस शानदार जीत पर कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता राज्य से नशाखोरी समाप्त करने की होगी। अमरिंदर ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पंजाब के लोगों ने बहुत बड़ा जनादेश दिया है। हमारी प्राथमिकता पंजाब से नशाखोरी समाप्त करने की होगी। मैंने चार सप्ताह में ड्रग्स कारोबार को उखाड़ फेंकने की प्रतिबद्धता जताई है। उन्होंने क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंहह सिद्धू को कांग्रेस सरकार में उपमुख्यमंत्री बनाने पर प्रतिबद्धता नहीं जताई।