पारदर्शिता और दक्षता से उखाड़ फेकेंगे भ्रष्टाचार: सोनोवाल

Daily news network Posted: 2017-10-10 13:44:28 IST Updated: 2017-10-10 13:44:28 IST
पारदर्शिता और दक्षता से उखाड़ फेकेंगे भ्रष्टाचार: सोनोवाल
  • मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि पारदर्शिता एवं दक्षता, दो ऐसे हथियार हैं, जिनकी मदद से प्रशासन तंत्र से भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंका जा सकता है।

गुवाहाटी।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि पारदर्शिता एवं दक्षता, दो ऐसे हथियार हैं, जिनकी मदद से प्रशासन तंत्र से भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंका जा सकता है। उन्होंने सरकारी सेवा में पारदर्शिता और दक्षता की जरूरत पर बल दिया और सुशासन सुनिश्चित करने की राज्य की सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए सार्वजनिक वित्त प्रबंधन प्रणाली में सुधार लाने की बात कही।



असम प्रशासनिक पदाधिकारी महाविद्यालय में आयोजित एक समारोह में विश्व बैंक की सहायता प्राप्त असम राज्य सार्वजनिक वित्त संस्थागत सुधार (एएसपीआईआरई) परियोजना का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक वित्त प्रबंधन सुधार की यह सबसे बड़ी पहल है।



मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार प्रशासन को अधिक लोककेंद्रित बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। एएसपीआईआरई के तहत आईटी सक्षम सेवाओं की मदद सरकारी सेवा में सुधारवादी परिवर्तन लाने में सहायकत होगी। उन्होंने सरकारी कर्मचारियों को अधिक जिम्मेदारी और पारदर्शी तरीके से कार्य करने की अपील की।



आत्मविश्वास भरे लहजे में सोनोवाल ने कहा कि वित्तीय प्रबंधन के जरिए सरकारी विभाग राज्यवासियों का भरोसा और विश्वास जीत सकेगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने एएसपीआईआरई के लोगो का लोकार्पण भी किया। इससे पहले वित्त विभाग के प्रधान सचिव डॉ. रवि कोटा ने परियोजना पर प्रकाश डाला।