असम में घटने लगा बाढ़ का पानी

Daily news network Posted: 2017-07-17 13:45:32 IST Updated: 2017-07-17 13:45:32 IST
असम में घटने लगा बाढ़ का पानी
  • राज्य में बाढ़ धीरे-धीरे घटने लगी है। इस बीच प्रभावित इलाकों में बाढ़-पश्चात की गंदगी और पशुओं की लाशें सड़ने आदि के कारण संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है।

गुवाहाटी।

राज्य में बाढ़ धीरे-धीरे घटने लगी है। इस बीच प्रभावित इलाकों में बाढ़-पश्चात की गंदगी और पशुओं की लाशें सड़ने आदि के कारण संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है।



अभी भी ब्रह्मपुत्र सहित उसकी कई सहायक नदियां कुछ स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर हैं। प्रभावित जिलों और गांवो की संख्या घटकर क्रमशः 21 और 1512 रह गई है।



रविवार को जारी असम राज्या आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार धेमाजी, लखीमपुर, बिश्वनाथ, दरंग, नलबाड़ी, बरपेटा, बंगाईगांव, चिरांग, कोकराझाड़, धुबड़ी, दक्षिण शालमारा, ग्वालपाड़ा, मोरीगांव, नगांव, कार्बी-आंग्लोंग, गोलाघाट, जोरजाट, माजुली, शिवसागर, करीमगंज और कछार अभी भी बाढ़ग्रस्त जिले हैं।



इनके कुल 56 राजस्व क्षेत्रों तक ही बाढ़ का दायरा सीमित रह गया है। वैसे बाढ़ का पानी धीरे-धीरे घटने लगा है, लेकिन अब भी राज्य के अधिकतर हिस्सों में लोगों का जीना दुश्वार बना हुआ है। लखीमपुर के ढकुवाखाना में स्थिति अब भी भयावह बनी हुई है।