हवाई जहाज और स्पीड पोस्ट से हो रही गांजा तस्करी, ऐसे हुआ भंडाफोड़

Daily news network Posted: 2017-12-06 16:34:17 IST Updated: 2017-12-06 16:34:17 IST
हवाई जहाज और स्पीड पोस्ट से हो रही गांजा तस्करी, ऐसे हुआ भंडाफोड़
  • शराब बंदी लागू होने के बाद बिहार में गांजा जैसे नशीले पदार्थ की तस्करी काफी जोर पकड़ रही है। माफिया अब तस्करी के लिए नए-नए तरीके इजाद कर रहे हैं। यह पहली बार है कि तस्करों ने अब गांजा तस्करी के लिए हवाई जहाज का सहारा लिया है।

अगरतला।

शराब बंदी लागू होने के बाद बिहार में गांजा जैसे नशीले पदार्थ की तस्करी काफी जोर पकड़ रही है। माफिया अब तस्करी के लिए नए-नए तरीके इजाद कर रहे हैं। यह पहली बार है कि तस्करों ने अब गांजा तस्करी के लिए हवाई जहाज का सहारा लिया है। अगरतला से पार्सल के जरिए विमान से कोलकाता भेजा गया और फिर वहां से ट्रेन से पटना के लिए बुक किया गया। दो बोरी पैकेट में 130 गांजा पटना एसटीएफ ने पकड़ा है। पटना जंक्शन के पार्सल में दो पैकेट बोरियां आई थी, जब इसे खोल कर देखा गया तो उसमें एक में 80 एवं दूसरे में 50 किलोग्राम गांजा मिला।


इस बार गांजा की तस्करी का बिल्कुल ही नया तरीका सामने आया है। 130 किलो गांजा की इस खेप को त्रिपुरा से हाजीपुर के लिए बुक किया गया था। लेकिन, ये जानकर आश्चर्य होगा कि ये खेप सीधे ट्रेन से पटना नहीं आया, बल्कि प्लेन के जरिए कोलकाता फिर वहां से पूरी खेप पटना जंक्शन पार्सल में पहुंची। यहां से हाजीपुर के उस पते पर भेजा गया, जिस पर गांजा की इस खेप को बुक किया गया था। लेकिन वो पूरा पता फर्जी निकला।


पहचान पत्र के रूप में पोस्टमैन को उस नाम का आधार कार्ड नहीं दिखाया गया, जिस नाम से उसे बुक किया गया था। इस कारण हाजीपुर से पूरी खेप वापस पटना आ गई। पार्सल के अधिकारी इस पूरी खेप को वापस रिटर्न कर ही रहे थे की इसी बीच इकोनोमिक ऑफेंस यूनिट और एसटीएफ को गांजा के इस खेप की जानकारी मिली। फिर देर शाम दोनों टीम ने रेल पुलिस की मदद से पार्सल में छापेमारी की और वहां से गांजा की खेप को बरामद किया। 


अब इस पूरे मामले की जांच की जांच रही है। त्रिपुरा में इसे किसने बुक किया था, हाजीपुर में इसे कौन रिसीव करने वाला था? इसका पता लगाया जा रहा है। एसटीएफ के अधिकारी की मानें तो आगे की जांच में सब कुछ साफ हो जाएगा। हालांकि, एसटीएफ गांजा तस्कर को रंगेहाथ पकड़ना चाहती थी, मगर इसकी भनक तस्करों को लग गया था। अब उनकी टीम पूरे मामले की छानबीन में जुटी है। जब्त गांजा की खेप की कीमत 50 लाख से भी अधिक बताई जा रही है।