Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राजस्थान बजट: विधवा पेंशनर्स और वरिष्ठ नागरिकों के लिए खुशखबरी

Patrika news network Posted: 2017-03-08 14:13:53 IST Updated: 2017-03-08 14:13:53 IST
राजस्थान बजट: विधवा पेंशनर्स और वरिष्ठ नागरिकों के लिए खुशखबरी
  • मुख्यमंत्री वसुंधराजे ने बुधवार को सरकार का चौथा बजट विधानसभा में पेश किया। मुख्यमंत्री ने सवेरे ग्यारह बजे अपने बजट भाषण की शुरुआत की। उन्होंने अपने बजट को जनता को समर्पित बताते हुए कहा कि सरकार ने सुराज संकल्प के दौरान आम जनता से किए गए ज्यादातर वादों को पूरा किया है।

जयपुर।

मुख्यमंत्री वसुंधराजे ने बुधवार को सरकार का चौथा बजट विधानसभा में पेश किया। मुख्यमंत्री ने सवेरे ग्यारह बजे अपने बजट भाषण की शुरुआत की। उन्होंने अपने बजट को जनता को समर्पित बताते हुए कहा कि सरकार ने सुराज संकल्प के दौरान आम जनता से किए गए ज्यादातर वादों को पूरा किया है। मुख्यमंत्री ने अपने भाषण के दौरान प्रतिपक्ष पर भी निशाना साधा। उन्होंने अपने बजट भाषण में सभी वर्गों के लिए घोषणाएं कीं। उन्होंने राज्यकर्मियों के लिए सातवें वेतन आयोग के लिए कमेटी गठन किए जाने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट के बाद आगे निर्णय कर इसका लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के गांवों को स्मार्ट विलेज बनाने के लिए नई योजना का एलान किया। 

विधवा पेंशनर्स और वरिष्ठ नागरिकों के लिए खुशखबरी

बजट भाषण के दौरान घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विधवा पेंशनर्स को दी जाने वाली पेंशन को एक जुलाई 2017 से बढ़ाया जाएगा। विधवा पेंशन की राशि बढ़ाकर 1500 और 1000 रुपए की गई। वहीं मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए घोषणा की है। उन्होंने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना के तहत आगामी में वर्ष में 20 हजार वरिष्ठ नगारिकों को तीर्थयात्रा करवाई जाएगी। इसके साथ ही दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक योजना में आगामी वर्ष में पांच हजार नागरिकों को हवाई मार्ग से तीर्थयात्रा करवाई जाएगी।

महिलाओं को मिलीं कई सौगातें

बजट घोषणा के दौरान राजे ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की महिलाओं की बेटियों के विवाह पर दी जाने वाली अनुदान एवं प्रोत्साहन राशि को दुगुना किया जाएगा। वहीं उन्होंने यह भी घोषणा की कि 1 जुलाई से विधवा पेंशन में इजाफा किया जाएगा। विधवा पेंशनर्स को दी जाने वाली राशि अब 1 हजार रुपए होगी। मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना में 60 वर्ष से अधिक आयु की विधवा पेंशनर को 1000 रुपए प्रतिमान दिए जाएंगे। इसी प्रकार मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना में 75 वर्ष से अधिक की विधवा पेंशनर को 1500 रुपए प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी। बजट पेश करते हुए उन्होंने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ पर जोर दिया और कहा कि इस साल प्रदेश को नारी शक्ति पुरस्कार मिला है। उन्होंने सामान्य वर्ग की छात्राओं के लिए स्कूटी की भी घोषणा की। इसी प्रकार उन्होंने 1 हजार दुग्ध उत्पादन केंद्रों की भी घोषणा की है।

फटाफट जानें क्या मिला बजट से

मुख्यमंत्री ने एक लाख रोजगार देने का वादा किया। प्रदेश के पर्यटन को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया गया। इसी के तहत प्रदेश के संग्रहालयों और मंदिरों के जीर्णोद्धार संबंधी कई योजनाएं बजट में पेश की गईं।

बजट घोषणाओं में प्रदेशभर में स्मार्ट विलेज विकसित करने का एलान हुआ। सीएम ने कहा कि 5 हजार से ज्यादा आबादी वाले गांवों को स्मार्ट विलेज के रूप में विकसित किया जाएगा। राजस्थान सरकार ने 5 हजार से ज्यादा आबादी वाले गांवों को स्मार्ट विलेज बनाने का वादा किया है। इन गांवों में स्ट्रीट लाइट, पुस्तकालय, वाई फाई, एटीएम जैसी सुविधाएं होंगी। 

इसके साथ ही बजट में कहा गया कि 90 प्रतिशत के अधिक पाने वाली बोर्ड की 100 छात्राओं को स्कूटी दी जाएगी। वहीं महिलाओं के लिए घोषणाएं करते हुए कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं की बेटियों को आर्थिक सहायता। राजस्थान सरकार के नए बजट में राजधानी जयपुर में स्थित सिंधी कैंप स्टेडशन को आधुनिक एवं व्यवस्थित बनाने का वादा किया गया है। इसके नवनिर्माण में 6 करोड 50 लाख का खर्च किया जाएगा।