भाजपा के इस चाणक्य ने कांग्रेसी नेता की बोलती बंद कराई, दिया ऐसा जवाब

Daily news network Posted: 2017-09-15 11:59:43 IST Updated: 2017-09-15 11:59:43 IST
भाजपा के इस चाणक्य ने कांग्रेसी नेता की बोलती बंद कराई, दिया ऐसा जवाब
  • शिक्षा मंत्री डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने विधानसभा में विपक्षी कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि राज्य में दीनदयाल उपाध्याय नहीं, बल्कि महाविद्यालयों की स्थापना सरकार का लक्ष्य है।

गुवाहाटी।

शिक्षा मंत्री डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने विधानसभा में विपक्षी कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि राज्य में दीनदयाल उपाध्याय नहीं, बल्कि महाविद्यालयों की स्थापना सरकार का लक्ष्य है। कांग्रेस दीनदायल उपाध्याय के नाम को लेकर इतनी हाय तौबा मचा रही है पर उसी कांग्रेस ने देशभर में जवाहर लाला नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के नाम से तमाम संस्थाओं की स्थापना की है। 



विधानसभा में पूरक मांगों को लेकर हुई बहस के जवाब में वित्त तथा शिक्षा मंत्री हिमंत ने सदन में कांग्रेस को जमकर लताड़ा। चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक अब्दुल खालेक ने राज्य में दीनदयाल महाविद्यालय के नाम कॉलेजों की स्थापना की सरकारी पहल पर कटाक्ष किया और कहा कि नाथूराम गोडसे के नाम पर भी कॉलेजों की स्थापना की जानी चाहिए। 



इस पर मंत्री हिमंत भड़क गए और कहा कि कांग्रेस ने देश के कोने कोने में जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा-राजीव गांधी के नाम से तमाम संस्थाओं की स्थापना की है। अब सोनिया गांधी के नाम से प्राथमिक विद्यालय खोले जाने के प्रस्ताव आने लगे हैं। हिमंत ने कहा कि अगर जवाहर नवोदय विद्यालयों के नामों को हटाकर असम में जितने संस्थानों के नाम हैं उनके नाम आनंदराम बरुवा, लक्ष्मीनाथ बेजबरुवा आदि महान विभूतियों के नामों से रखने को कांग्रेस तैयार हो जाती है तो शिक्षा मंत्री होने के नाते हिमंत एक भी कॉलेज दीनदयाल के नाम से स्थापित नहीं करेंगे।