अमरीका को हमला करने से रोकेगा चीन, जानिए क्यों

Daily news network Posted: 2017-08-11 13:28:35 IST Updated: 2017-08-11 13:28:35 IST
अमरीका को हमला करने से रोकेगा चीन, जानिए क्यों
  • चीन के सरकारी मीडिया ने चेतावनी दी है कि अगर अमरीका और उसके सहयोगी देश उत्तर कोरिया पर हमला करते हैं तो चीन उन्हें ऐसा करने से रोकेगा

बीजिंग।

चीन के सरकारी मीडिया ने चेतावनी दी है कि अगर अमरीका और उसके सहयोगी देश उत्तर कोरिया पर हमला करते हैं तो चीन उन्हें ऐसा करने से रोकेगा। ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में कहा गया है कि अगर अमरीका और दक्षिण कोरिया हमला करते हैं और उत्तर कोरिया में सत्ता परिवर्तन की कोशिश करते हैं तो यह कोरियन प्रायद्वीप की राजनीतिक स्थिति में बदलाव की कोशिश होगी। चीन उन्हें ऐसा करने से रोकेगा।


हालांकि इस लेख में यह भी कहा गया है कि अगर उत्तर कोरिया पहले कार्रवाई करते हुए ऐसी मिसाइल छोड़ता है जिससे अमरीका को खतरा हो और इसके जवाब में वॉशिंगटन जवाबी कार्रवाई करता है तो ऐसी स्थिति में चीन तटस्थ रहेगा। अखबार ने आगे लिखा है, चीन कोरियन प्रायद्वीप में परमाणु हथियारों के प्रसार और जंग, दोनों के ही खिलाफ है। चीन किसी भी पक्ष को सैन्य संघर्ष शुरू करने के लिए बढ़ावा नहीं देगा। अगर किसी भी पक्ष ने इस क्षेत्र में यथास्थिति को बदलने की कोशिश की और इससे चीन के हितों को नुकसान पहुंचा तो बीजिंग सख्त विरोध करेगा।


वह दोनों पक्षों, अमरीका और उत्तर कोरिया से संयम बनाए रखने की उम्मीद करता है। लेख में कहा गया है कि कोरियन प्रायद्वीप ऐसी जगह है जहां इस मामले में शामिल सभी पक्षों के हित एक जगह आकर मिल जाते हैं। किसी भी पक्ष को इस क्षेत्र में हावी होने या अपना वर्चस्व बनाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। गुरुवार को अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने बेहद सख्त अंदाज में उत्तर कोरिया को चेतावनी दी थी। ट्रंप ने कहा था कि अगर उत्तर कोरिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आता है तो अमरीका उसके खिलाफ इतनी सख्त कार्रवाई करेगी कि दुनिया ने इससे पहले कभी ऐसा देखा नहीं होगा।


ट्रंप ने कहा था, अगर उत्तर कोरिया हमें या हमारे सहयोगी देशों पर हमला करने जैसी कोई भी हरकत करता है तो उसकी हालत बहुत खराब हो जाएगी क्योंकि इसके बाद उनके साथ जो होगा उसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की होगी। ट्रंप की इस चेतावनी से कुछ ही घंटे पहले उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया ने अपनी सेना द्वारा तैयार की गई एक विस्तृत योजना को साझा किया था। यह प्लान कथित तौर पर नॉर्थ कोरियन सेना ने अपने शासक किम जोंग उन के सामने पेश किया था। इसके मुताबिक नॉर्थ कोरिया प्रशांत महासागर में स्थित अमरीकी भूभाग गुआम के पास 4 बेलिस्टिक मिसाइलों से हमला करने की योजना तैयार कर रहा है। ट्रंप प्रशासन पिछले कुछ महीनों से लगातार चीन को

उत्तर कोरिया पर दबाव बनाने के लिए तैयार करने की कोशिश कर रहा है।