त्रिपुरा: वामपंथी सरकार ने मारा गरीबों, कामगारों का हक

Daily news network Posted: 2018-02-13 08:30:08 IST Updated: 2018-02-13 16:25:04 IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने त्रिपुरा की वाम मोर्चा सरकार पर गरीबों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि यहां बड़ी संख्या में कामगारों और गरीबों को उनके हक से वंचित किया गया है।

अगरतला।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने त्रिपुरा की वाम मोर्चा सरकार पर गरीबों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि यहां बड़ी संख्या में कामगारों और गरीबों को उनके हक से वंचित किया गया है।


योगी आदित्यनाथ ने राज्य के उनाकोटी जिले में जुबराजनगर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'मार्क्सवादियों के शासन काल में त्रिपुरा में कामगारों खास तौर पर किसानों को मनरेगा योजना के तहत निर्धारित न्यूनतम मजदूरी से भी वंचित किया गया।'


योगी ने कहा, 'मनरेगा योजना की धनराशि केन्द्र की ओर से भेजी जाती है लेकिन यह यहां केवल वाम दलों के कार्यकर्ताओं को दे जाती है। त्रिपुरा में वाम मोर्चा सरकार के कुशासन की वजह से यहां बेरोजगारी का मुद्दा बहुत गर्माया हुआ है।'

उन्होंने कहा कि वाम दलों के कार्यकर्ताओं ने त्रिपुरा के विकास के नाम पर जनता का धन हड़पा है। नतीजतन गरीबों का सबसे ज्यादा हक मारा गया है। योगी ने कहा, 'हम त्रिपुरा में हिंसा की राजनीति को बदल कर विकास की राजनीति लाना चाहते हैं।

भाजपा की सरकार राज्य में लाइए, 'हम पांच वर्षों में इसे 'मॉडल राज्य' बना देंगे। कई निर्वाचन क्षेत्रों के दौरे के बाद मुझे पूरा विश्वास हो गया है कि त्रिपुरा में अगली सरकार भाजपा की बनेगी और भाजपा शासित यह 20वां राज्य होगा।'

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आज ही सुबह यहां पहुंचे और उन्होंने राज्य में उनाकोटी जिले के धरमनगर में रोड शो भी किया।