सिक्किम पर चीन के बयान पर भारत से दिया ऐसा बयान, जानिए क्या

Daily news network Posted: 2017-10-13 12:34:57 IST Updated: 2017-10-13 12:49:43 IST
सिक्किम पर चीन के बयान पर भारत से दिया ऐसा बयान, जानिए क्या
  • भारत ने चीन से अनुरोध किया कि वह सीमा विवादों को लेकर बनी परस्पर सहमति का नैतिकता से सम्मान करे और सुनिश्चित करे कि प्रत्येक पक्ष दूसरे पक्ष की स्थिति को ठीक ढंग से पेश करे

नई दिल्ली

भारत ने चीन से अनुरोध किया कि वह सीमा विवादों को लेकर बनी परस्पर सहमति का नैतिकता से सम्मान करे और सुनिश्चित करे कि प्रत्येक पक्ष दूसरे पक्ष की स्थिति को ठीक ढंग से पेश करे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने नियमित ब्रीफिंग में कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है कि सीमा विवादों को लेकर बनी सहमतियों का दोनों पक्षों द्वारा नैतिकता से सम्मान किया जाये तथा प्रत्येक पक्ष दूसरे पक्ष की स्थिति को सटीक ढंग से पेश करे।


कुमार चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें चीनी प्रवक्ता ने कहा था कि सिक्किम का एक हिस्सा अभी भी विवादित है। कुमार ने कहा कि भारत सरकार ने इस मामले एवं चीनी अधिकारियों की टिप्पणी को संज्ञान में लिया है। उन्होंने कहा कि भारत चीन सीमा मसले पर दोनों देशों के बीच विशेष प्रतिनिधि स्तर की बातचीत चल रही है। समय समय पर बनी सहमतियों के आधार पर ये बैठकें होती हैं। विशेष प्रतिनिधि स्तर की बातचीत में अंतिम सहमति 2012 में बनी थी।


उन्होंने कहा कि इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि इन सहमतियों का नैतिकता से सम्मान किया जाये। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने हाल ही में कहा था कि सिक्किम सेक्टर में भारत चीन सीमा को 1890 की ऐतिहासिक संधि द्वारा निर्धारित किया गया था और इसे साबित करने के लिए नाथू ला इसका सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। उन्होंने कहा कि चीनी पक्ष भारत के साथ ऐतिहासिक संधियों एवं प्रासंगिक समझौतों के आलोक में सीमावर्ती इलाकों में मिलजुल कर शांति एवं यथास्थिति बनाए रखने का इच्छुक है। डोकलाम सेक्टर के बारे में एक सवाल पर श्री कुमार ने कहा कि वहां कोई नई गतिविधि नहीं हुई है और 28 अगस्त के बाद से यथास्थिति बहाल है। इससे विपरीत कोई भी बात असत्य है।