असम में खुलेगा कृषि अनुसंधान संस्थान, पीएम करेंगे उद्घाटन

Daily news network Posted: 2017-05-18 11:59:25 IST Updated: 2017-05-18 11:59:25 IST
असम में खुलेगा कृषि अनुसंधान संस्थान, पीएम करेंगे उद्घाटन
  • पूर्वी राज्यों के बल पर दूसरी हरितक्रांति को सफल बनाने के मकसद से केंद्र सरकार ने असम में भी भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान खोलने का फैसला किया

नई दिल्ली।

पूर्वी राज्यों के बल पर दूसरी हरितक्रांति को सफल बनाने के मकसद से केंद्र सरकार ने असम में भी भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान खोलने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। इसके निर्माण का पूरा खर्च केंद्र सरकार उठायेगी, जबकि असम सरकार ने संस्थान की स्थापना के लिए पर्याप्त जमीन उपलब्ध करा दी है। 26 मई को प्रधानमंत्री मोदी संस्थान का शिलान्यास करेंगे।



दिल्ली और रांची के बाद असम में यह तीसरा संस्थान होगा, जहां कृषि शिक्षा की व्यवस्था होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के लोगों से यहां ऐसे संस्थान की स्थापना का भरोसा दिया था। मंत्रिमंडल की बुधवार को हुई बैठक मंजूरी मिलने के तत्काल बाद केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह सीधे गुवाहाटी पहुंच गये। सिंह वहां प्रधानमंत्री के 26 मई को होने वाले कार्यक्रम की तैयारी के लिए पहुंच गये हैं।



सिंह ने बताया कि असम के इस आईएआरआई में कृषि शिक्षा में स्नातकोत्तर की पढ़ाई होगी। इसमें अनाज बागवानी, कृषि वानिकी, पशुधन, डेयरी, मात्स्यिकी, कुक्कुट, शुकर, रेशम व शहद के क्षेत्रों में होने वाली आधुनिक पढ़ाई होगी। असम का यह संस्थान समूचे पूर्वोत्तर के लिए अहम होगा। यहां की जरूरतों के लिए मानव संसाधन तैयार होंगे। क्षेत्र में खेती के विकास के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकी उपलब्ध होगी। सिंह ने कहा कि इस संस्थान को खोलने का ऐलान प्रधानमंत्री ने पहले ही कर दिया था, लेकिन तत्कालीन राज्य की कांग्रेस सरकार ने जमीन देने से मना कर दिया था। लिहाजा संस्थान खोलने में थोड़ी देर हुई है।