त्रिपुरा में आईपीएफटी 50 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, किसी से गठबंधन नहीं

Daily news network Posted: 2017-06-14 17:04:43 IST Updated: 2017-06-14 17:04:43 IST
त्रिपुरा में आईपीएफटी 50 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, किसी से गठबंधन नहीं
  • स्वदेशी पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने सोमवार को घोषणा की कि वे राज्य के 60 निर्वाचन क्षेत्रों में से 50 पर 2018 विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

अगरतला।

स्वदेशी पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने सोमवार को घोषणा की कि वे राज्य के 60 निर्वाचन क्षेत्रों में से 50 पर 2018 विधानसभा चुनाव लड़ेगी।



पार्टी अध्यक्ष एनसी डेबबर्मा ने ये भी ऐलान किया कि पार्टी किसी भी राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं करेगी, जब तक कि वे त्रिपुरा के स्वदेशी आबादी के लिए एक अलग राज्य टिप्रालैंड की मांग पर सहमत नहीं होते।


उन्होंने कहा, 'आज हमारी केंद्रीय समिति की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई है बैठक में सभी निर्वाचन क्षेत्रों में से 10 एससी उम्मीदवारों को मैदान में उतारने का संकल्प लिया गया है। उन्होंने कहा कि हालांकि अब तक एससी आरक्षित सीटों के लिए पार्टी के पास कोई भी उम्मीदवार नहीं है।



राज्य के प्रमुख विपक्षी दलों के साथ वार्ता के बारे में बोलते हुए देबबर्मा ने कहा कि भाजपा जैसी पार्टियां बार-बार कह रही थीं कि वे 'टिप्रालैंड' की मांग का समर्थन करते हैं।



उन्होंने कहा कि हम यह देखकर हैरान थे कि गठबंधन को लेकर वो लोग बातें कर रहे हैं जबकि हमलोगों ने कभी इसके बारे में उनसे बात तक नहीं की है।



आईपीएफटी जल्द ही 10 जुलाई को 'रास्ता रोको' और 'रेल रोको' आंदोलन करेगी। आंदोलन बारामूरा रेंज के खमिंगबारी इलाके में होगा।



पूर्व विधायक राजेश्वर देबबर्मा, बुद्ध देबबर्मा और अन्य नेताओं के बारे में डेबबर्मा ने कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था, उनके साथ किसी भी तरह के सहयोग की संभावना नहीं है।