अभी भी ले सकते हैं जियो की प्राइम मेंबरशिप, करना होगा ये काम

Daily news network Posted: 2017-07-17 16:12:47 IST Updated: 2017-07-17 16:12:47 IST
अभी भी ले सकते हैं जियो की प्राइम मेंबरशिप, करना होगा ये काम
  • आप अभी भी 99 रुपए का रिचार्ज करवाकर जियो की प्राइम मेंबरशिप ले सकते हैं।

नई दिल्ली।

अगर आपने अभी तक यह सोचकर जियो की प्राइम मेंबरशिप नहीं ली है कि यह ऑफर महज 15 अप्रैल तक के लिए ही था, तो आप गलत सोच रहे हैं। दरअसल आप अभी भी 99 रुपए का रिचार्ज करवाकर जियो की प्राइम मेंबरशिप ले सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपको कस्टमर केयर या जियो आउटलेट पर जाकर 99 रुपए का रिचार्ज कराना होगा। इसके बाद आप जियो के नए प्लान को ले सकते हैं। 


जियो की ऑफिशियल वेबसाइट पर प्राइम मेंबरशिप प्लान नहीं है। जियो के एक स्पोक पर्सन का कहना है कि वेबसाइट पर डिटेल भले ही न हो लेकिन अभी भी 99 रुपए में जियो की प्राइम मेंबरशिप ली जा सकती है। प्राइम मेंबर बनने के बाद यूजर्स को ज्यादा बेनिफिट्स मिलेंगे ऐसा दावा कंपनी ने किया था, जो आज सही होता दिख रहा है।


बता दें कि जियो ने फरवरी के आखिर में प्राइम मेंबरशिप प्लान लॉन्च किया था जिसमें जियो यूजर्स को 1-31 मार्च तक 99 रुपए का रिचार्ज करवा कर प्राइम मेंबर बनना था। बाद में प्राइम मेंबरशिप लेने की तारीख बढ़ाकर 15 अप्रैल कर दी गई थी। दावा किया गया था कि इसके बाद प्राइम मेंबरशिप नहीं मिलेगी।


कहीं आपका डाटा ना हो जाए लीक, हमेंशा याद रखें ये बातें

आपको बता दें कि जियो यूजर का डाटा लीक करने के पीछे बड़ी कहानी सामने आई है। एक युवक ने इसलिए डाटा लीक किया क्योंकि वह ट्रूकॉलर की तरह एक सर्च इंजन बनाना चाहता था। इसलिए उसने पहले वेबसाइट बनाई। फिर इस पर जियो यूजर की डिटेल डाली और इसे सोशल मीडिया में फ्रेंड्स के साथ शेयर किया। हालांकि अगर आप चाहते हैं कि आपकी कोई डिलेट लीक न हो जाए तो इसके लिए आपको ये कदम जरूर उठाने चाहिए।  

- जियो यूज करने वाले हर यूजर के फोन में जियो की एप्लीकेशन होती है। यह एप्लीकेशन डाटा एक्सेस की परमीशन मांगती है।

- जब भी आप डाटा एक्सेस की परमीशन किसी को दे रहे हैं तो पहले नियमों को अच्छी तरह से पढ़ लें।

- जिन चीजों की एक्सेस देना जरूरी नहीं, उनका एक्सेस न दें। कई लोग फ्री में सिम मिलने पर सभी चीजों का एक्सेस कंपनी को दे देते हैं।

- कभी भी अपने बैंक अकाउंट, पासवर्ड की डिटेल मोबाइल में न रखें। ईमेल आईडी पर भी कॉन्फिडेंशियल इंफॉर्मेशन न रखें।

- जो एप बड़े स्तर पर यूज हो रहे हैं उन्हें ही आप भी यूज करें। फ्री के आप इंस्टॉल करने पर आपका डाटा हैक किया जा सकता है।

- अगर आपको लगता है कि आपका डाटा लीक हुआ है तो सर्विस देने वाली कंपनी कके साथ तुरंत साइबर पुलिस को सूचित करें।