ये है फुटबॉल के दीवानों का शहर, इसे कहते हैं रियो डी जेनेरो

Daily news network Posted: 2017-10-11 16:46:06 IST Updated: 2017-10-11 16:46:06 IST
ये है फुटबॉल के दीवानों का शहर, इसे कहते हैं रियो डी जेनेरो
  • दक्षिणी अमरीका का सबसे बड़ा देश है ब्राजील। इसका बेहद ही खूबसूरत शहर है रियो डी जेनेरो। खास बात यह है कि इस नाम का मतलब होता है जनवरी की नदी

नई दिल्ली।

दक्षिणी अमरीका का सबसे बड़ा देश है ब्राजील। इसका बेहद ही खूबसूरत शहर है रियो डी जेनेरो। खास बात यह है कि इस नाम का मतलब होता है जनवरी की नदी। दरअसल ब्राजील की खोज करने वाले पुर्तगाली यहां पर जनवरी के महीने में पहुंचे थे। यहां आकर उन्होंने समझा कि वे किसी विशाल नदी के तट पर पहुंच गए हैं, इसलिए उन्होंने इस जगह का नाम ही रियो डी जेनेरो अर्थात जनवरी की नदी रख दिया। ऐसे में अगर आप ब्राजील जा रहे हैं तो इस शहर को घूमना ना भूलें। आपको बताते हैं इस शहर की खूबसूरती के बारे में।

मैराकाना स्टेडियम

ब्राजील से बड़ा कोई भी देश फुटबॉल प्रेमी नहीं है, ये बात सारी दुनिया जानती है। ऐसे में यहां का मैराकाना स्टेडियम पूरी दुनिया में अपनी अलग पहचान के लिए जाना जाता है। एक समय यह सबसे ज्यादा दर्शक क्षमता वाला स्टेडियम हुआ करता था, इसमें एक साथ दो लाख लोग बैठ सकते थे। लेकिन सुरक्षा की नजर से इसकी दर्शक दीर्घाएं कम कर दी गईं।

लापा नेबरहुड

अगर आप इतिहास के अच्छे जानकार हैं और आपको ऐतिहासिक इमारते देखने का शौक है, तो ये जगह आपको लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं हो सकती है। इस जगह को ऐतिहासिक स्थल के लिए जाना जाता है। इसके साथ ही अगर आप कलाप्रेमी हैं तो रियो शहर के सैंटा टेरेसा इलाके में आ सकते हैं। यहां की ऊंची-ऊंची पहाडिय़ां और तंग गलियां लोगों को काफी आकर्षित करती हैं।

क्राइस्ट-द-रिडीमर

इस शहर के लिए गौरव की बात यह है कि विश्व के सात अजूबों में से एक क्राइस्ट-द-रिडीमर की भव्य प्रतिमा यहीं पर है। जिस प्रकार विश्व में पेरिस की पहचान आइफल टॉवर और मास्को की पहचान क्रेमलिन से होती है, उसी प्रकार ब्राजील की पहचान यह प्रतिमा है। इसके अलावा रियो डी जेनेरो अपनी कुदरती लोकेशन, अपने कार्निवल उत्सव, साम्बा तथा अन्य संगीत, कोपाकबाना व इपानेमा के विशाल तटों पर निर्मित पंक्तिबद्ध होटलों के लिए विश्वविख्यात है।


तिज़ुका राष्ट्रीय उद्यान

नगर की पृष्ठभूमि में अनेक दर्शनीय स्थलों तथा संरक्षित तिज़ुका वन के मध्य है तिज़ुका राष्ट्रीय उद्यान। यह कोरकोवेडो पर्वत शृंखला पर स्थित क्राइस्ट डी रिडीमर की विशाल प्रतिमा के चारों ओर फैला है। यह विश्व का विशालतम नगरीय उद्यान है तथा 3,300 किमी हेक्टेयर भूमि पर फैला है। इसमें अधिकांश वनस्पतियां स्थानीय प्रजाति की हैं। कैपूचीन बंदरों, ब्राजीलियन रैकून, रंग-बिरंगे पक्षियों, चीलों, नीली तितलियों व अन्य प्राकृतिक वन्य जीवों का यह प्राकृतिक आवास स्थल है।