मणिपुर: उप मुख्यमंत्री के बेटे की फेसबुक पोस्ट को लेकर मचा बवाल

Daily news network Posted: 2017-09-16 11:58:55 IST Updated: 2017-09-16 11:58:55 IST
मणिपुर: उप मुख्यमंत्री के बेटे की फेसबुक पोस्ट को लेकर मचा बवाल
  • मणिपुर के उप मुख्यमंत्री युमनाम जॉयकुमार के बेटे युमनाम देबाजीत की फेसबुक पोस्ट को लेकर मचा बवाल अभी तक थमा नहीं है।

इंफाल। मणिपुर के उप मुख्यमंत्री युमनाम जॉयकुमार के बेटे युमनाम देबाजीत की फेसबुक पोस्ट को लेकर मचा बवाल अभी तक थमा नहीं है। अल्पसंख्यक समुदाय ने इंफाल ईस्ट के हत्ता में देबाजीत को दंडित करने की मांग को लेकर धरना दिया। देबाजीत ने कथित रूप से फेसबुक पर समुदाय को नीचा दिखाने वाली टिप्पणियां पोस्ट की थी। मणिपुर के अल्पसंख्यक संगठन युमनाम देबाजीत के खिलाफ साइबर कानून के मुताबिक कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। 1 सितंबर को बकरीद देबाजीत ने फेसबुक पर एक पोस्ट की थी। इसमें लिखा था कि कुर्बानी के नाम पर जानवरों की हत्या कुछ नहीं बल्कि इंसानों की हत्या जैसा है। 


अल्पसंख्यक समुदाय उप मुख्यमंत्री युमनाम जॉयकुमार से नैतिक आधार पर इस्तीफा मांग रहे हैं क्योंकि उनके बेटे के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने मुख्यमंत्री एन.बीरेन सिंह को ज्ञापन सौंपा और मणिपुर पुलिस की साइबर क्राइम यूनिट में शिकायत भी दर्ज कराई थी लेकिन देबाजीत के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। मणिपुर मुस्लिम कल्याण संगठन के अध्यक्ष अब्दुल्लाह पठान ने कहा, मसले को हल्के में नहीं लिया जा सकता। उप मुख्यमंत्री खामोश हैं क्योंकि वह देबाजीत के पिता हैं। क्या अल्पसंख्यक समुदाय राज्य के बच्चे नहीं हैं? हम समाधान चाहते हैं। 


24 जून को मुख्यमंत्री बीरेन सिंह ने नॉर्थ ईस्ट का पहला साइबर क्राइम पुलिस थाना खोला था। मुख्यमंत्री ने इसके उद्घाटन के दौरान कहा था कि साइबर क्राइम बढ़ रहे हैं और इस ट्रेंड पर नियंत्रण के लिए अलग पुलिस थाने की जरूरत है। जॉयकुमार पुलिस महानिदेशक रह चुके हैं। वे उरिपोक विधानसभा क्षेत्र से एनपीएफ उम्मीदवार के रूप में चुने गए थे। एनपीएफ राज्य में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार में सहयोगी है।