बांग्लादेश के अपार्टमेंट में मृत पाया गया मणिपुर का युवक, दोस्त ने की हत्या

Daily news network Posted: 2017-07-17 13:56:35 IST Updated: 2017-07-17 13:56:35 IST
बांग्लादेश के अपार्टमेंट में मृत पाया गया मणिपुर का युवक, दोस्त ने की हत्या
  • बांग्लादेश के चटगांव के अकबर शाह मुहल्ले में स्थित एक फ्लैट में शुक्रवार को मणिपुर का एक युवक मृत पाया गया

इंफाल।

बांग्लादेश के चटगांव के अकबर शाह मुहल्ले में स्थित एक फ्लैट में शुक्रवार को मणिपुर का एक युवक मृत पाया गया। फ्लैट में इस युवक का शव खून से लथपथ पड़ा हुआ था। उसी फ्लैट में एक अन्य युवक पंखे से लटका हुआ था। दोनों युवक चिटगांव के निजी संस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी चिटगांव से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे थे।


दोनों की पहचान आसिफ शेख(25) और विल्सन सिंह (23) के रूप में हुई है। घटना 14 जुलाई की रात करीब 11 बजे की है। लेक व्यू सोसायटी के अब्दुल हामिद रोड पर स्थित 6 मंजिला इमारत के चौथे माले पर स्थित अपार्टमेंट में आसिफ शेख मृत पाया गया। । पुलिस के मुताबिक कथित रूप से विल्सन सिंह ने अपने दोस्त आसिफ अली की हत्या कर दी। इसके बाद विल्सन सिंह ने पंखे से लटककर खुद की जान लेने की कोशिश की। हालांकि पड़ोस में रहने वाले अन्य लोगों ने विल्सन सिंह को बचा लिया। दोनों को चिटगांव के मेडिकल कॉलेज व अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने आसिफ शेख को मृत घोषित कर दिया।


बांग्लादेश के सूत्रों के मुताबिक विल्सन सिंह का इलाज चल रहा है। वह धीरे धीरे ठीक हो रहा है। बांग्लादेश की न्यूज वेबसाइट बांग्लादेश प्रतिदिन के मुताबिक मेडिकल पुलिस चौकी के नायेक मोहम्मद हामिदने कहा कि चिटगांव मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के डॉक्टरों ने शुक्रवार को ही आसिफ को मृत घोषित कर दिया था। आसिफ के शव पर धारदार हथियार से हमले के निशाने थे।


मोहम्मद हामिद ने कहा कि यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी का अन्य भारतीय छात्र नीरज गुर दोनों को करीब 1.15 बजे अस्पताल ले गया था। गुर आसिफ और विल्सन के फ्लैट के पास ही अपनी पत्नी के साथ रहता है। आसिफ और विल्सन ने शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे शराब पी। नीरज गुर ने रात 12 बजे उनके कमरे में कुछ आवाज सुनी। उसने दरवाजा खोलने की कोशिश की लेकिन कमरा अंदर से बंद था। गुर ने किसी तरह दूसरी चाबी से दरवाजा खोला। उसने आसिफ

को खून से लथपथ पाया जबकि विल्सन पंखे से लटका हुआ था। पड़ोसियों की मदद से गुर दोनों को अस्पताल लेकर गया। पुलिस ने इस दुखद घटना की वजह जानने के लिए जांच शुरू कर दी है। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि दोनों छात्र यूएसटीसी के किस विभाग के छात्र थे।