सोलर लैंपों के प्रकाश से जगमगाए सीमा क्षेत्र के कई गांव

Daily news network Posted: 2017-12-06 16:53:39 IST Updated: 2017-12-06 16:53:39 IST
सोलर लैंपों के प्रकाश से जगमगाए सीमा क्षेत्र के कई गांव
  • शहरी क्षेत्र से बिल्कुल कटे हुए और यातायात व्यवस्था एवं कई अन्य बुनियादी साधन-सुविधाओँ से वंचित टेंगाटोला एवं घोषितों गांव सोलर लैंपों के दुधिया प्रकाश में जगमगा उठे है। फिलहाल दोनों गांवों के निवासियों में खुशी का माहौल देखा जा रहा है।

असम

बोकाजान  । शहरी क्षेत्र से  बिल्कुल कटे हुए और यातायात व्यवस्था एवं कई अन्य बुनियादी साधन-सुविधाओँ से वंचित टेंगाटोला एवं घोषितों गांव सोलर लैंपों के दुधिया प्रकाश में जगमगा उठे है। फिलहाल दोनों गांवों के निवासियों में खुशी का माहौल देखा जा रहा है। 




ज्ञात हो कि ये दोनों ही गांव विवादास्पद असम-नागालैंड सीमा क्षेत्र के अधीन रचे-बसे हैं। सीमा विवाद का मामला देश के सवोंच्व व्यपायालय में लंबित है । अतएव दोनों राज्य सरकारों के दृष्टिकोण से यह क्षेत्र हर मामले में अवहेलित है । 




मसलन, केंद्र सरकार ने इस क्षेत्र के रखरखाव एवं कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 155वीं बटालियन की तैनाती की  है । यही बटालियन इन दोनों गांवों के लोगों की खुशी की वजह बनी ।




केंद्र सरकार के द्वारा जन कल्लयाणकारी योजना 2017-18 के लिए अावंटित कोष से  155वीं बटालियन के द्वारा टेंगाटोला गांव के मस्जिद तथा आने-जाने वाली सड़कों पर तीन नग स्ट्रीट लाइटें लगाई गई । जबकि घोषितो गांव में स्कूल और गिरजाघर परिसरों में दो नग स्ट्रीट लाइटें लगाई गई । 




सोमवार को बटालियन के कमान अधिकारी मुकेश कुमार त्यागी ने फीता काट कर इसका उदघाटन किया तथा गांव के आम लोगों  को इसे  समर्पित कर दिया । इस मौके पर बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी मुख्यियार सिंह, उप कमान अधिकारी जोसैफ अदावी, सहायक कमान अधिकरियों क्रमश: अभिमन्यु सिंह यादव, बिरेंद्र कुमार सत्यार्थी व दिगंबर सिंह समेत दोनों गावों  के गांवबूढ़ा  रहमत अली एवं घोईंतो सहित कई गणमान्य व्यक्ति इस कार्यक्रम  में शामिल हुए।