मेघालय में कांग्रेस के उप-मुख्यमंत्री लालू के खिलाफ मंत्री की बगावत!

Daily news network Posted: 2017-05-19 16:11:21 IST Updated: 2017-05-19 16:11:21 IST
मेघालय में कांग्रेस के उप-मुख्यमंत्री लालू के खिलाफ मंत्री की बगावत!
  • मेघालय के पावर मिनिस्टर एस.धर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगा है

शिलॉन्ग।

मेघालय के पावर मिनिस्टर एस.धर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगा है। आरोप है कि धर जोवई में उप मुख्यमंत्री आर.सी.लालू के खिलाफ अपने उम्मीदवार को प्रोटेक्ट कर रहे हैं। धर ने अपने एक्शन का बचाव किया है। 




धर ने कहा, कोई भी उस विधानसभा क्षेत्र से पार्टी का टिकट मांग सकता है,जहां से कांग्रेस का विधायक है। किसी भी निर्वाचन क्षेत्र से टिकट मांगने में कुछ भी गलत नहीं है। टिकट उन क्षेत्रों से भी मांगा जा सकता है जहां से हमारे मौजूदा विधायक हैं। यह पार्टी को तय करना है कि किसे टिकट देना है। कांग्रेस पार्टी की यही खूबसूरती है कि वह टिकट देते समय विनिबिलिटी को ध्यान में रखती है। विनिबिलिटी भी एक फैक्टर है। धर ने अपने बड़े भाई एन.धर के केस का उदाहरण दिया। 



एन.धर को 2013 के विधानसभा चुनाव में उमरोई से टिकट दिया गया था। उस वक्त वहां से विधायक एस.डब्ल्यू रिम्बाई को टिकट देने से इनकार कर दिया गया। बकौल धर, मेरा बड़ा भाई सिटिंग एमएलए नहीं था लेकिन उसे टिकट दिया गया और वह चुनाव जीत गया। इस कारण भले ही आप मौजूदा विधायक हो,इसका मतलब यह नहीं है कि आपको पार्टी का टिकट मिल ही जाएगा। टिकट उसको दिया जाता है जिसके चुनाव जीतने का चांस हो। 



धर ने स्वीकार किया कि उनके साले डब्ल्यू.श्याला जोवई से कांग्रेस का टिकट मांगेंगे। इस सीट का अब उप मुख्यमंत्री आर.सी.लालू प्रतिनिधित्व करते हैं। धर ने कहा, मेरा साला भी कांग्रेस कार्यकर्ता है। जब वह चुनाव लडऩा चाहता है तो टिकट मांगेगा ही। मुझे उसकी मदद करनी होगा। धर ने इस बात से इनकार किया कि वह पार्टी के खिलाफ काम कर रहे हैं। धर ने कहा, मेरे साले को मुखला गांव के लोगों ने प्रोजेक्ट किया। वे उसका इसलिए समर्थन कर रहे हैं क्योंकि वह उनके गांव से है।