भरी अदालत में कहा, तलाक-तलाक-तलाक और हो गया फरार

Daily news network Posted: 2017-04-18 15:49:54 IST Updated: 2017-04-18 15:49:54 IST
भरी अदालत में कहा, तलाक-तलाक-तलाक और हो गया फरार
  • एक शख्स ने भरी अदालत में अपनी पत्नी को एक बार में तीन तलाक बोला और वहां से फरार हो गया।

गोण्डा।

एक शख्स ने भरी अदालत में अपनी पत्नी को एक बार में तीन तलाक बोला और वहां से फरार हो गया। यह सुनने के बाद पत्नी बेसुध होकर कोर्ट परिसर में ही गिर पड़ी। पीडि़ता के पिता ने बताया कि उनकी बेटी रुकैया ने अपने पति महफूज पर दहेज मांगने का आरोप लगाया था। उन्होंने बताया कि इस मामले में सीजेएम और फैमिली कोर्ट में केस चल रहा था। सोमवार को महफूज और रुकैया की पेशी थी। 


मसीउल्लाह का कहना है कि बेटी-दामाद एकसाथ पेशी पर पहुंचे। मामले की सुनवाई चल ही रही थी कि महफूज ने रुकैया को एकबार में तीन तलाक कहा और वहां से चला गया। रुकैया खातून का निकाह 8 नवंबर, 2014 को महफूज अहमद से हुआ था।  रुकैया का आरोप है कि निकाह के बाद से ही महफूज उस पर मायके से बाइक और सोने की चेन दिलाने की मांग कर रहा था। इसके बाद 10 जून 2015 को रुकैया ने अपने पति समेत ससुराल के 6 लोगों पर दहेज मांगने का केस दर्ज करवा दिया। इसके साथ ही उसने कोर्ट में गुजारा भत्ता की एप्लिकेशन भी दी।


शौहर के मुंह से तीन बार तलाक-तलाक-तलाक का लफ्ज सुनने के बाद पत्नी रुकैया अपनी दुधमुंही बच्ची इकरा के साथ बिलख पड़ी। उसने कहा कि मेरी जिंदगी अब बर्बाद हो गई। मेरी बच्ची का क्या होगा? उसने बताया कि उसे दहेज के लिए मारा-पीटा जाता था। इसका केस दर्ज कराया तो सीजेएम कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई।  विक्टिम के मुताबिक, कोर्ट ने उसे घर में रखने का ऑर्डर दिया था इसके बावजूद महफूज उससे मारपीट करता था।