मणिपुर में छापेमार समूहों से बातचीत करने को इच्छुक हैं - एन बीरेन सिंह

Daily news network Posted: 2017-10-11 09:53:33 IST Updated: 2017-10-11 09:53:33 IST
मणिपुर में छापेमार समूहों से बातचीत करने को इच्छुक हैं - एन बीरेन सिंह
  • सिंह ने कहा कि राज्य में 30 अलग-अलग सशस्त्र छापेमार समूह मौजूद हैं और वह उन सभी से एक साथ बातचीत करना चाहते हैं।

इंफाल।

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह का कहना है कि उनकी सरकार राजनीतिक समाधान खोजने और शांति स्थापित करने के लिए केंद्र की भागीदारी के साथ राज्य में मौजूद विभिन्न छापेमार समूहों से बातचीत करने को तैयार है।


सिंह ने कहा कि राज्य में 30 अलग-अलग सशस्त्र छापेमार समूह मौजूद हैं और वह उन सभी से एक साथ बातचीत करना चाहते हैं। अगर लंबे समय से चली आ रही इस समस्या का दीर्घकालीन समाधान मिलता है तो उनकी पार्टी साथ छोडऩे को भी तैयार है। उन्होंने कहा कि हम हथियार उठा चुके लोगों के साथ बातचीत करना चाहते हैं, शांतिपूर्ण समाधान बहुत जरूरी है।


उन्होंने कहा कि मैं उग्रवादी समूहों से बातचीत पर एक संयुक्त अपील के लिए केंद्र और प्रधानमंत्री की भागीदारी चाहता हूं। राज्य सरकार इसे आगे ले जाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगी। मणिपुर में उग्रवादियों का लंबा इतिहास है और पीपुल्स लिबरेशन आर्मी पीएल, पीपुल्स रेवोलुशनरी पार्टी ऑफ  कांगलीपैक, पीआरईपीएके, यूनाईटेड लिबरेशन फ्रंट यूएनएलएफ  और कांगली यावोल कन्ना लूप आदि राज्य में प्रतिबंध समूह हैं।