नोटबंदी के बाद अस्वाभाविक लेन-देन करने पर 10 हजार से अधिक को नोटिस, कई रडार पर

Daily news network Posted: 2017-11-12 13:54:19 IST Updated: 2017-11-12 13:54:19 IST
नोटबंदी के बाद अस्वाभाविक लेन-देन करने पर 10 हजार से अधिक को नोटिस, कई रडार पर
  • बुधवार को नोटबंदी को पूरा एक वर्ष हो गया। नोटबंदी के दौरान पूर्वोत्तर भारत कई राज्यों खासकर असम के कई बैंक खातों में अस्वाभाविक लेन-देन की खबर है।

गुवाहाटी।

बुधवार को नोटबंदी को पूरा एक वर्ष हो गया। नोटबंदी के दौरान पूर्वोत्तर भारत कई राज्यों खासकर असम के कई बैंक खातों में अस्वाभाविक लेन-देन की खबर है। 

इस तरह के अस्वाभाविक लेनदेन करने वाले व्यापारी आयकर विभाग के रडार पर हैं। मिली जानकारी के अस्वाभाविक लेनदेन करने वाले 10 हजार से अधिक करदाताओं को नोटिस भेजा है। इसके अलावा विभिन्न जांच एजेंसियां अपने-अपने स्तर पर भी इन बेनामी लेनदेन की जांच में जुट गई हैं।

आयकर विभाग के सूत्रों के अनुसार नोटबंदी के दौरान पूर्वोत्तर भारत में कुछ बैंकों ने बड़े पैमाने पर संदिग्ध लेनदेन किए। आयकर विभाग के एक सूत्र ने एक खास मामले पर से कुछ पर्दा हटाते हुए बताया कि बंगाईगांव में एक्सिस बैंक की शाखा में एक व्यापारी ने अपने कर्मचारियों के नाम से एक ही दिन में कई फर्जी खाते खुलवाए और बड़े पैमाने पर पुरानी करंसी जमा कराई गई।

इस मामले की जांच जारी है तथा इसको लेकर आयकर विभाग ने बंगाईगांव सहित निचले असम में उक्त संदिग्ध व्यापारी के ठिकानों पर छापा भी मारा था।