पीएम मोदी हुए फ्लॉप, एक भी वोट नहीं मिला

Daily news network Posted: 2017-04-17 17:13:48 IST Updated: 2017-04-17 17:13:48 IST
पीएम मोदी हुए फ्लॉप, एक भी वोट नहीं मिला
  • मोदी का नाम एनुअल लिस्ट में संभावित दावेदार के तौर पर शामिल था लेकिन उन्हें वोटिंग बंद होने के वक्त कोई भी यस वोट नहीं मिला

न्यूयॉर्क।

फिलीपींस के विवादित राष्ट्रपति रोडिग्रो दुतर्ते ने टाइम मैगजीन का रीडर्स पोल जीत लिया है। वे दुनिया के 100 सबसे ज्यादा असरदार लोगों में टॉप पर हैं। नरेन्द्र मोदी को ऑनलाइन सर्वे में एक भी वोट नहीं मिला। 


मोदी के अलावा जिन हस्तियों को 1 भी वोट नहीं मिला उनमें माइक्रोसॉफ्ट के भारतीय मूल के सीईओ सत्या नडेला,इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू,व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर,प्रेसिडेंट डोनल्ड ट्रंप की बेटी इंवाका और उनके पति जारेड कुशनेर शामिल हैं। मोदी का नाम एनुअल लिस्ट में संभावित दावेदार के तौर पर शामिल था लेकिन उन्हें वोटिंग बंद होने के वक्त कोई भी यस वोट नहीं मिला। लिहाजा रिडर्स पोल में मोदी को 0 फीसदी वोट मिलना बताया गया। 



2016 में भी मोदी का नाम टाइम की लिस्ट में संभावित दावेदारों के तौर पर शामिल था। टाइम के एडिटर्स ने 100 असरदार हस्तियों की 2015 की लिस्ट में भी मोदा का नाम शामिल किया था। उस साल मैगजीन में मोदी की प्रोफाइल ओबामा ने लिखी थी। रोड्रिगो दुतर्ते टाइम 100 लीडर पोल में लगातार आगे रहे थे। यह एक ऑनलाइन सर्वे है जिसमें पब्लिकेशन ने अपने रीडर्स से कहा था कि वो उस लीडर के लिए वोट करें जिसे वो इस साल दुनिया के 100 असरदार लोगों की टाइम की लिस्ट में देखना चाहते हैं। 


बराक ओबामा और कई अन्य लोगों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने वाले दुतर्ते को टोटल यस में से 5 फीसदी वोट मिले। अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को 2 फीसदी यस वोट मिले। वोटिंग रविवार आधी रात को बंद हुई। रीडर्स पोल में दुतर्ते को करीबी चुनौती देने वालों में कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडेयु,पोप फ्रांसिस,बिल गेट्स और मार्क जुकरबर्ग रहे। इन सभी को 3 फीसदी यस वोट मिले। टाइम ने लिखा,फिलीपींस के राष्ट्रपति दुतर्ते ने जून 2016 में चार्ज संभालने के बाद से ड्रग्स बेचने वालों के खिलाफ एक आक्रमक जंग छेड़ रखी है। इस देश में 8 हजार से ज्यादा ड्रग पेडलर्स मारे गए हैं। दुतर्ते के विवादित एंटी ड्रग कैंपेन का मानवाधिकार समूहों और कुछ राजनेताओं ने विरोध किया जिनमें उप राष्ट्रपति लेनी रॉब्रिडो शामिल हैं।