असम: छात्रा को स्कूल की कम्प्यूटर लैब में ले गया हेडमास्टर और फिर हुआ ये

Daily news network Posted: 2017-09-15 13:38:31 IST Updated: 2017-09-15 13:38:31 IST
असम: छात्रा को स्कूल की कम्प्यूटर लैब में ले गया हेडमास्टर और फिर हुआ ये
  • असम में रेप और यौन हमलों के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इससे लोगों में असुरक्षा की भावना घर करती जा रही है।

गुवाहाटी।

असम में रेप और यौन हमलों के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इससे लोगों में असुरक्षा की भावना घर करती जा रही है। लखीमपुर जिले के बिहपुरिया से सनसनीखेज मामला सामने आया है। डोंगिबिल एमई स्कूल की एक छात्रा ने स्कूल के हेडमास्टर पर छेडख़ानी का आरोप लगाया है। घटना के विरोध में विभिन्न वर्गों के लोग सड़कों पर उतर आए।


उन्होंने बिहपुरिया में विरोध प्रदर्शन करते हुए रैली निकाली। लोग स्कूल के हेडमास्टर को तुरंत बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक छात्रा ने आरोप लगाया है कि जन्माष्टमी के दिन स्कूल के हेडमास्टर ने उसे स्कूल बुलाय और कम्प्यूटर लैब में छेडख़ानी की।


हेडमास्टर ने उसे कोर्स में शामिल स्पेशल प्रोजेक्ट पर चर्चा के लिए बुलाया था। प्रदर्शनकारियों ने स्कूल के हेडमास्टर रॉबिन दुवारा को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है। पुलिस ने स्कूल पहुंचकर हालात का जायजा लिया। पीडि़त छात्रा के माता पिता ने बिहपुरिया पुलिस थाने में स्कूल हेडमास्टर के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। उधर जोरहाट में एक महिला से गैंगरेप का मामला सामने आया है।


महिला से उसके घर में ही सामूहिक बलात्कार किया गया। घटना जोरहाट के 15 माइल एरिया की है जहां पीडि़ता अपने घर में अकेले थी। स्थिति का फायदा उठाते हुए दो आरोपी जिनकी पहचीन राकेश राजबोंग्शी और बिकी रोंग्पी के रूप में हुई है, पीडि़ता के घर में घुसे और उससे सामूहिक बलात्कार किया। पीडि़ता के चिल्लाने और रोने की आवाज सुनकर मदद के लिए पड़ोसी पीडि़ता के घर पहुंचे। उन्होंने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जबकि रोंग्पी घटनास्थल से भागने में कामयाब रहा। जो आरोपी स्थानीय लोगों के हाथ लगा उसे बुरी तरह पीटा गया। बाद में उसे पुलिस के हवाले कर दिया।