आपका है एसबीआई में खाता तो होगा ये बड़ा नुकसान

Daily news network Posted: 2017-03-06 12:00:37 IST Updated: 2017-03-06 13:05:40 IST
आपका है एसबीआई में खाता तो होगा ये बड़ा नुकसान
  • पांच साल के बाद स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई)ने हाल में अपने अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर लगने वाली पेनल्टी में इजाफा किया था।

नई दिल्ली।

पांच साल के बाद स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई)ने हाल में अपने अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर लगने वाली पेनल्टी में इजाफा किया था। अब 1 अप्रेल से एटीएम सहित अन्य सेवाओं के बदले लिए जाने वाले चार्ज में भी बदलाव किया गया है।



अगर आप एसबीआई के अलावा किसी एटीएम से महीने में तीन बार से ज्यादा ट्रांजेक्शन करते हैं तो आपको हर अगले ट्रांजेक्शन पर 20 रुपए देने होंगे। वहीं एसबीआई के एटीएम से महीने में पांच बार से ज्यादा ट्रांजेक्शन करने पर अगली हर कैश निकासी पर 10 रुपए का चार्ज अतिरिक्त देना होगा। हालांकि एसबीआई ने स्पष्ट किया है कि अगर आपके अकाउंट में 25 हजार से अधिक बैलेंस है तो वह अपने एटीएम से कैश निकासी पर कोई चार्ज नहीं लेगा। अगर आपके अकाउंट में 1 लाख रुपए से ज्यादा का बैलेंस है तो दूसरे बैंकों के एटीएम से धन निकासी पर भी कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा।



इसके अलावा तीन महीने में औसतन 25 हजार रुपए तक का बैलेंस रखने वाले डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों से एसबीआई हर तिमाही के लिए 15 रुपए एसएमएस अलर्ट का चार्ज भी वसूलेगा। हालांकि 1000 रुपए तक के यूपीआई व यूएसएसडी ट्रांजेक्शंस पर कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम ने कहा है कि कुछ सरकारी और निजी बैंकों की ओर से कैश ट्रांजेक्शन पर बढ़ाए गए चार्ज एक गलत नीतिगत कदम है। उन्होंने कहा,खातों में जमा और निकासी पर बढ़ाए गए बैंक चार्ज सबसे प्रतिगामी कदम है। अगर ग्राहक चार्ज से बचने के लिए एक बार में ही सारा पैसा निकाल कर घर पर रख ले तो क्या बैंक उससे खुश होंगे?