त्रिपुरा के सात विधायकों ने रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया

Daily news network Posted: 2017-07-17 15:56:37 IST Updated: 2017-07-17 15:56:37 IST
त्रिपुरा के सात विधायकों ने रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया
  • कांग्रेस के बागी विधायक और तृणमूल कांग्रेस से बर्खास्त 6 विधायकों ने सोमवार को एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया

अगरतला।

कांग्रेस के बागी विधायक और तृणमूल कांग्रेस से बर्खास्त 6 विधायकों ने सोमवार को एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया। तृणमूल कांग्रेस से बर्खास्त किए गए विधायकों के नेता सुदीप रॉय बर्मन ने राष्ट्रपति चुनाव में मतदान के बाद मीडिया को बताया कि पूर्व की घोषणा के मुताबिक हम 6 विधायकों ने रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया।


कांग्रेस विधायक रतन लाल नाथ ने भी पूर्व की घोषणा के मुताबिक कोविंद के पक्ष में मतदान किया। त्रिपुरा असेंबली लॉबी में मतदान के बाद नाथ ने बताया कि मेरा मानना है कि राष्ट्रपति पद के लिए कोविंद पूरी तरह फिट हैं। अगर वह भारत के राष्ट्रपति बनते हैं तो देश सुरक्षित रहेगा। सीपीआई-एम के नेतृत्व वाले लेफ्ट फ्रंट के 50 सदस्यों ने भी राष्ट्रपति चुनाव में मतदान किया। इनमें मुख्यमंत्री माणिक सरकार,स्वास्थ्य मंत्री बादल चौधरी, आदिवासी कल्याण मंत्री अगहोर देबबर्मा, शिक्षा मंत्री तपन चक्रबर्ती और परिवहन मंत्री माणिक डे शामिल है।


अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी देबाशीष मोडक ने कहा, त्रिपुरा विधानसभा के अध्यक्ष रमेन्द्र चंद्र देबनाथ ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में अपना वोट डाला। त्रिपुरा के तीन लोकसभा सांसदों(दो लोकसभा सांसद और एक राज्यसभा सांसद) ने नई दिल्ली स्थित संसद भव में मतदान किया। देबनाथ का कोलकाता में इलाज चल रहा है। वे त्रिपुरा विधानसभा में सीपीआई-एम के सदस्य हैं। एनडीए ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया था जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष ने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार को अपना उम्मीदवार घोषित किया था।