ट्रंप को फिर लगा झटका, यात्रा संबंधी आदेश पर अदालत की रोक

Daily news network Posted: 2017-03-16 10:54:36 IST Updated: 2017-03-16 10:54:36 IST
ट्रंप को फिर लगा झटका, यात्रा संबंधी आदेश पर अदालत की रोक
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उस समय एक और बड़ा झटका लगा जब हवाई की एक अदालत ने छह मुस्लिम देशों के नागरिकों को अमेरिका की यात्रा संबंधी उनके आदेश पर फिर से रोक लगा दी।

न्यूयॉर्क।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उस समय एक और बड़ा झटका लगा जब हवाई की एक अदालत ने छह मुस्लिम देशों के नागरिकों को अमेरिका की यात्रा संबंधी उनके आदेश पर फिर से रोक लगा दी। 

ट्रंप ने छह मार्च को ही यात्रा संबंधी नए आदेश पर हस्ताक्षर किए थे जिसमें विश्व के छह मुस्लिम देशों के नागरिकों को अमेरिका आने पर रोक लगाने की बात की गई थी लेकिन हवाई की एक संघीय जज ने इस आदेश के लागू होने से कुछ घंटे पहले इस पर फिर से रोक लगा दी है।

राष्ट्रपति ट्रंप का प्रतिबंध संबंधी आदेश गुरुवार रात से ही लागू होना था। हवाई, अमेरिका के उन राज्यों में से एक है जो, ट्रंप के इस प्रतिबंध को रोकने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि ट्रम्प ने जज के आदेश पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, 'यह हमें कमजोर बनाता है।'

राष्ट्रपति और न्यायालय के बीच जारी यह लड़ाई अब फैडरल कोर्ट जा सकती है। ट्रंप ने इससे पहले इस वर्ष जनवरी में भी यात्रा संबंधी इसी तरह का आदेश जारी किया था, जिस पर सिएटल के एक जज ने रोक लगा दी थी। 

ट्रम्प के आदेश के कारण हवाईअड्डों पर अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गई थी और विरोध प्रदर्शन भी हुए थे। ट्रंप मुसलमान आबादी बहुल छह देशों के नागरिकों के अमेरिका आने पर 90 दिन की पाबंदी लगाना चाहते हैं। इसके अलावा वह शरणार्थियों पर भी 120 दिन के लिए प्रतिबंध लगाना चाहते हैं। 

राष्ट्रपति का कहना है कि उनके प्रतिबंधों से आतंकवाद को अमेरिका में घुसने से रोका जा सकेगा लेकिन आदेश पर रोक लगाने वाले पक्षधरों का मानना है कि इससे भेदभाव को बढ़ावा मिलेगा। राष्ट्रपति ने नैशविले में एक रैली को संबोधित जज की रोक को 'अभूतपूर्व आदेश' बताते हुए कहा कि वह इस मामले को शीर्ष अदालत तक ले जाएंगें।