दार्जिलिंग में दुबारा नहीं फैलाने देंगे अशांति, बेशक पुलिस के जवानों को बलिदान ही क्यों न देनी पड़े

Daily news network Posted: 2017-10-13 18:52:08 IST Updated: 2017-10-13 19:21:07 IST
दार्जिलिंग में दुबारा नहीं फैलाने देंगे अशांति, बेशक पुलिस के जवानों को बलिदान ही क्यों न देनी पड़े
  • अतिरिक्त महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अनुज शर्मा ने कहा कि पुलिस को यह जानकारी मिली थी कि गुरुंग पड़ोसी राज्य सिक्किम में छिपे हुए हैं और शुक्रवार को वे दार्जिलिंग हिल्स में प्रवेश करने की कोशिश करने वाले थे।

कोलकाता

कोलकाता । अतिरिक्त महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अनुज शर्मा ने कहा  कि पुलिस को यह जानकारी मिली थी कि गुरुंग पड़ोसी राज्य सिक्किम में छिपे हुए हैं और शुक्रवार को वे दार्जिलिंग हिल्स में प्रवेश करने की कोशिश करने वाले थे।  


जब पुलिस ने इसके लिए छापेमारी की तभी गुरुंग समर्थकों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। शर्मा ने कहा कि फिर से दार्जिलिंग में अशांति फैलाने की कोशिश की जा रही है लेकिन हम इसे कतई कामयाब नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए हमें बेशक पुलिस के जवानों की बलिदान ही क्यों न देनी पड़े। गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी गुरुंग पर आतंकी हमले का आरोप लगाया था। 

शर्मा ने बताया कि दार्जिलिंग के निकट उनके समर्थकों द्वारा पुलिस दल पर हमला किया गया जहां से छह एके -47 राइफलें बरामद हुई है। इसके अलावा यहां से एक 9 मिमी पिस्तौल, 500 राउंड गोला बारूद और बम बरामद किए गए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने गुरुंग समर्थकों के पास से भारी मात्रा में आग्नेयास्त्र बरामद किया है। 

मालूम हो कि शुक्रवार को गुरुंग समर्थकों द्वारा पुलिस पर किए गए हमले में एक पुलिस उप-निरीक्षक की मौत हो गई जबकि चार पुलिस कर्मियों जख्मी हो गए हैं। यह हमला पुलिस पर उस समय किया गया जब पुलिस गुरुंग के लिए तलाशी अभियान चला रही थी।