आतंकी के जनाजे में उमड़ी भारी भीड़,लगे भारत विरोधी नारे

Daily news network Posted: 2017-03-07 12:08:32 IST Updated: 2017-10-20 17:47:03 IST
आतंकी के जनाजे में उमड़ी भारी भीड़,लगे भारत विरोधी नारे
  • रविवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी अकीब की अंतिम यात्रा में हजारों स्थानीय नागरिक शामिल हुए।

श्रीनगर।

रविवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी अकीब की अंतिम यात्रा में हजारों स्थानीय नागरिक शामिल हुए। अधिक भीड़ के कारण कई बार अंतिम संस्कार टालना पड़ा। पुलवामा जिले में स्थानीय नागरिकों ने कश्मीर की आजादी और भारत विरोधी नारे लगाए।


गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में करीब 15 घंटे तक चली मुठभेड़ में रविवार को दो आतंकी मारे गए थे। मारे गए आतंकियों में से एक की पहचान अकीब भट्ट के रूप में हुई थी। वह हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा था और अकीब मौलवी के नाम से मशहूर था। वह पिछले तीन सालों से घाटी में सक्रिय था। दूसरे आतंकी की पहचान इलियास ओसामा के रूप में हुई है। वह पाकिस्तानी है और जैश ए मोहम्मद से जुड़ा था सोमवार को अकीब का अंतिम संस्कार किया गया।


अकीब की शवयात्रा में बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक शामिल हुए। इनमें महिलाएं भी शामिल थी। इस दौरान स्थानीय नागरिकों ने देश विरोधी नारे लगाए। आतंकी की मौत पर कई जगह स्थानीय नागरिकों ने बंद भी रखा। शनिवार 4 मार्च को शुरू हुई मुठभेड़ रविवार तक चली। 15 घंटे हुई फायरिंग के दौरान सुरक्षा बलों को आतंकियों के खात्म के लिए एक मकान भी उड़ाना पड़ा। मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी शहीद हुआ जबकि सेना के एक मेजर समेत 6 जवान घायल हुए। शहीद पुलिसकर्मी कॉन्सटेबल है,उनका नाम मंजूर अहमद नायक है। वह मूलत: उरी के रहने वाले थे।