यूनाइटेड नगा काउंसिल के साथ त्रिपक्षीय वार्ता 19 मई से शुरू होगी

Daily news network Posted: 2017-05-16 15:29:56 IST Updated: 2017-05-16 15:29:56 IST
यूनाइटेड नगा काउंसिल के साथ त्रिपक्षीय वार्ता 19 मई से शुरू होगी
  • यूनाइटेड नगा काउंसिल,मणिपुर सरकार और केन्द्र के बीच त्रिपक्षीय वार्ता 19 मई से सेनापति जिले में शुरू होगी

इंफाल।

यूनाइटेड नगा काउंसिल,मणिपुर सरकार और केन्द्र के बीच त्रिपक्षीय वार्ता 19 मई से सेनापति जिले में शुरू होगी। वार्त डिस्ट्रिक्ट क्रिएशन मसले पर होगी। सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने इस संबंध में यूएनसी को जानकारी दे दी है। हालांकि सूत्रों का कहना है कि यूएनसी और मणिपुर सरकार के पास अभी तक लिखित निमंत्रण नहीं पहुंचा है। 



समझा जा रहा है कि नॉर्थ ईस्ट के मुख्य सचिवों की मीटिंग के कारण त्रिपक्षीय वार्ता एक सप्ताह के लिए टाल दी गई थी। गृह मंत्रालय ने नॉर्थ ईस्ट के मुख्य सचिवों की मीटिंग बुलाई थी। 19 मार्च को हुई पिछली त्रिपक्षीय वार्ता सेनापति में हुई थी। इसमें राजनीतिक स्तर पर एक महीने के भीतर अगली वार्ता शुरू करने पर सहमति बनी थी। एक महीने की मियाद 19 अप्रेल को खत्म हो गई थी। पिछले सप्ताह यूएनसी के अध्यक्ष जी.कमेई ने कहा था कि हम इस पर करीब से निगाह रखे हुए हैं कि कहीं मणिपुर सरकार अपनी पूर्व की स्थिति से इधर उधर तो नहीं हो रही है।


  

उम्मीद है कि मणिपुर सरकार द्विपक्षीय वार्ता में शामिल नहीं होगी। 19 मार्च को हुई त्रिपक्षीय वार्ता में यूएनसी की शिकायतों के चलते आर्थिक नाकेबंदी हुई थी। मणिपुर सरकार ने चार एमओयू का समर्थन किया था और भारत सरकार ने नगाओं को आश्वासन दिया था। वार्ता में मणिपुर सरकार उपायों के लिए सभी पक्षों से परामर्श करने पर राजी हुई थी। जी.कमेई ने कहा था कि मणिपुर सरकार चार एमओयू और आश्वासन को पालन करने में विफल हुई है। ऐसे में हमारे पास अपने अधिकारों और क्षेत्रों के बचाव के लिए जरूरी आंदोलन शुरू करने के अलावा कोई च्वाइस नहीं है। मसले पर हमारी स्थिति स्पष्ट है। सरकार को चार एमओयू और नगाओं को दिए गए आश्वासन का सम्मान करना चाहिए। हम अपनी पॉजिशन से समझौता नहीं करेंगे।