त्रिपुरा में भाजपा-माकपा कार्यकर्ताओं की झड़पें, 25 घायल

Daily news network Posted: 2017-10-13 16:27:34 IST Updated: 2017-10-13 16:27:34 IST
त्रिपुरा में भाजपा-माकपा कार्यकर्ताओं की झड़पें,  25 घायल
  • दक्षिण त्रिपुरा के काकराबोन उप- मंडल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) कार्यकर्ताओं ओर भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों के बीच हुई झड़पों में 25 लोग घायल हो गए. सभी घायलों को उदयपुर के जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

त्रिपुरा

उदयपुर।  दक्षिण त्रिपुरा के काकराबोन उप- मंडल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) कार्यकर्ताओं ओर भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों के बीच हुई झड़पों में 25 लोग घायल हो गए. सभी  घायलों को उदयपुर के जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।  


प्राप्त जानकारी के अनुसार कल मिर्जा तहसील कार्यालय में मतदाता सूचियों में सुधार के लिए सुनवाई के समय यह घटना घटी।  बाद में सबंधित एसडीपीओ  राजेंद्र दत्ता समुचित पुलिस बलऔर टीएसआर के जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और हालात को काबू किया। 


माकपा का आरोप है कि क्षेत्र के भाजपा समर्थक स्वप्न कर ने तहसील कार्यालय के पास अपनी  मोटरसाइकिल से  माकपा कार्यकर्ता कृष्णा दैबनाथ को  टक्कर मार दी  इसके बाद  बहसबाजी हुई और बाद में भाजपा के 50 समर्थकों ने जिले की भाजपा हकार्द्ध के उपाध्यक्ष जितब्बद्रा मजूमदार के नेतृत्व में हमला किया। 

 माकपा के समर्थक बिजॉय चक्रवर्ती ने आरोप लगाया कि इस घटना में पार्टी के कम से कम 12 कार्यकर्ता घायल हुए हैं। इसके अलावा जिले की भाजपा इकाई के महासचिव रूपक अधिकारों ने इसे  निराधार करार देते हुए आरोप लगाया कि यह माकपा द्वारा सुनियोजित  घटना थी, जिसमें उनकी पार्टी के 13 समर्थक घायल हुए है।  

उन्होंने कहा कि माकपा को मालूम है कि वे इस चुनाव को नहीं जीतेंगे, इसलिए उन्होंने जान-बूझकर पार्टी के समर्थकों पर हमला क्रिया है।  उन्होंने कहा कि माकपा के 24  कार्यकर्ताओं के खिलाया प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। 

उधर बिजॉय चक्रवर्ती ने कहा हैं कि वे भी भाजपा के सात कार्यकर्ताओ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करेंगे।  इस बीच पुलिस ने जानकारी दी कि अभी तक कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई हैं, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है।  घायलों का अस्पताल में उपचार हो रहा हैं।  राज्य में जल्द ही  विधानसभा चुनाव होने वाले हैं ऐसे में इस घटना के बाद से स्थानीय लोग दहशत में है।