त्रिपुरा गवर्नर बोले- हिंदू-मुस्लिम विवाद सुलझाने के लिए गृहयुद्ध चाहते थे जनसंघ संस्थापक

Daily news network Posted: 2017-06-20 09:42:50 IST Updated: 2017-06-20 09:42:50 IST
त्रिपुरा गवर्नर बोले- हिंदू-मुस्लिम विवाद सुलझाने के लिए गृहयुद्ध चाहते थे जनसंघ संस्थापक
  • तथागत रॉय ने भारतीय जन संघ (अब भारतीय जनता पार्टी) के संस्थापक के बारे में ट्वीट करते हुए लिखा है कि मुखर्जी हिंदू-मुस्लिम विवाद सुलझाने के लिए गृहयुद्ध चाहते थे

नई दिल्ली।

त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय के एक ट्वीट को लेकर लेकर बवाल मच गया है। अपने ट्वीट में तथागत रॉय ने भारतीय जन संघ (अब भारतीय जनता पार्टी) के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बारे में ट्वीट करते हुए लिखा है कि मुखर्जी हिंदू-मुस्लिम विवाद सुलझाने के लिए गृहयुद्ध चाहते थे।



एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक रॉय ने 18 जून को रात 12.23 पर पहला ट्वीट किया। इसमें उन्होंने बताया कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने 10/1/1946 को अपनी डायरी में लिखा था- हिंदू-मुस्लिम समस्या गृह युद्ध के बिना हल नहीं हो सकती, काफी कुछ लिंकन की तरह! उनके इस ट्वीट के तुरंत बाद ही इस पर तरह-तरह प्रतिक्रियाएं आने लगीं। उन्हें ट्विटर पर लोगों ने निशाने पर ले लिया। उन पर आरोप लगाए गए कि वे सांप्रदायिक हिंसा भड़ाका रहे हैं। कई लोगों ने उन्हें तुरंत पद से हटाकर गिरफ्तार करने की मांग भी कर डाली।



इसके जवाब में रॉय ने करीब 19 घंटे बाद दूसरा ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा कि कुछ लोग मुझे निशाने पर ले रहे हैं। कहा जा रहा है कि मैं गृह युद्ध की तरफदारी कर रहा हैं, लेकिन कोई भी थोड़ा ठहरकर यह विचार नहीं कर रहा है कि मैं सिर्फ डायरी में लिखी बातों का उल्लेख कर रहा हूं। उसकी वकालत नहीं कर रहा हूं। उन्होंने इसके बाद लिखा कि मैंने 70 साल पहले बंटवारे से पूर्व कही गई बात का उल्लेख किया है जो भविष्यवाणी जैसी थी, उस वक्त यह भविष्यवाणी सात महीने बाद ही सच साबित हुई जब जिन्ना ने गृह युद्ध छेड़ दिया।