त्रिपुरा में महिला ने 7600 रु. में बेटे को बेचा

Daily news network Posted: 2017-04-21 16:37:23 IST Updated: 2017-04-21 16:37:23 IST
त्रिपुरा में महिला ने 7600 रु. में बेटे को बेचा
  • यह घटना वेस्ट त्रिपुरा में तेलिमुरा पुलिस स्टेशन के रंगीया तिला गांव की है।

वेस्ट त्रिपुरा में एक आदिवासी महिला ने पति के इलाज के लिए नवजात बेटे को बेच दिया। ऐसा कहा जा रहा है कि पति के इलाज के लिए उसके पास पैसा नहीं था। पिछले साल सितंंबर में भी राज्य में एक बच्ची को 650 रुपए में बेचने का मामला सामने आया था। बता दें कि त्रिपुरा में लेफ्ट की सरकार है। यहां 8 महीने बाद विधानसभा इलेक्शन होने हैं। सिर्फ 7600 में बेचा बेटा...


न्यूज एजेंसी यूएनआई के मुताबिक यह घटना वेस्ट त्रिपुरा में तेलिमुरा पुलिस स्टेशन के रंगीया तिला गांव की है। आदिवासी महिला दिनामाला देबबर्मा का पति उषा रजंन देबबर्मा मजदूर है और काफी दिनों से बीमार है। दिनामाला के सामने परिवार को पालने का संकट था, साथ ही वह पति का इलाज भी नहीं करा पा रही थी, इसलिए उसने 7600 रुपए में बेटे को बेच देने का रास्ता चुना। यह मामला सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट की जानकारी में है, लेकिन अभी तक बच्चे को रेस्क्यू नहीं किया गया है।


पड़ोसी ने पैसे के बदले बेटा लेने का ऑफर दिया

देबबर्मा परिवार में पहले से ही 3 बेटे हैं। दिनामाला ने 17 अप्रैल को चौथे बेटे को जन्म दिया। उसके पड़ोसी ने उसे पैसे के बदले बच्चा देने का ऑफर दिया था। रिपोर्ट के मुताबिक, पड़ोसी ने दिनमाला के साथ डील पक्की कर ली और भरोसा दिलाया कि जब उसे अपने पति के इलाज के पैसों की जरूरत होगी, वह उसे दे देगा।


विपक्ष ने बनाया मुद्दा

मामला सामने आने के बाद एक बीजेपी नेता ने दिनामाला से मुलाकात की। बाद में एसडीएम को पूरी घटना की जानकारी दी। एसडीएम जयंत डे ने कहा, " यह घटना मेरी जानकारी में आने के बाद एक टीम को उस परिवार से मिलने के लिए भेजा गया। ताकि दिनामाला के पति को हॉस्पिटल में भर्ती किया जा सके। लेकिन उन्होंने आने से मना कर दिया। उसके घर वाले और पड़ोसी बच्चा बेचने की बात से इनकार किया है।"